Odisha Train Accident: जीवित पति को मृत बताकर मुआवजा लेना चाहती थी महिला, ऐसे हुआ खुलासा

7

ओडिशा के बालासोर जिले में हुए भीषण रेल हादसे से देशभर में शोक का माहौल है. लेकिन इस आपदा में भी अवसर तलाशने से लोग पीछे नहीं हट रहे हैं. एक ऐसी खबर सामने आ रही है, जिसे जानने के बाद आप हैरान रह जाएंगे और गुस्से को काबू में नहीं कर पायेंगे. दरअसल एक महिला ने मुआवजा लेने के लिए अपने जीवित पति को बता दिया मृत.

मुआवजे के लिए पति की मौत का ‘झूठा’ दावा करने वाली महिला फरार

ओडिशा में भीषण रेल हादसे के बाद मृतकों के परिजनों के लिए राज्य सरकार, केंद्र सरकार और रेलवे ने अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है. मुआवजे की लालच में एक महिला ने अपने पति की मौत का ‘झूठा’ दावा किया.

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

महिला के फर्जीवाड़े का खुलासा तक हुआ, जब उसके पति ने इस मामले को लेकर अपनी पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. खुलासा होने के बाद महिला फरार है. कटक जिले के मणियाबांदा की निवासी गीतांजलि दत्ता ने दावा किया था कि उसके पति बिजय दत्ता की दो जून को बालासोर रेल हादसे में मौत हो गई थी. उसने एक शव की पहचान अपने पति के रूप में भी की थी. हालांकि, दस्तावेजों की जांच के बाद पता चला कि महिला का दावा झूठा था.

गिरफ्तारी की डर से महिला फरार

पुलिस ने बताया कि उस वक्त महिला को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया, लेकिन महिला की मुश्किलें तब शुरू हुईं, जब उसके पति बिजय दत्ता ने मणियाबांदा थाने में इस मामले को लेकर शिकायत दर्ज करवाई. उन्होंने बताया कि महिला गिरफ्तारी की डर से फरार है. वह बीते 13 वर्ष से अपने पति से अलग रह रही थी.

पति ने कार्रवाई की मांग की

पुलिस ने बताया कि बिजय ने गीतांजलि के खिलाफ सरकारी पैसे हड़पने की कोशिश करने और उसकी मौत का झूठा दावा करने को लेकर कड़ी कार्रवाई की मांग की है. हालांकि, मणियाबंदा थाने के प्रभारी बसंत कुमार सत्पथी ने बताया कि पुलिस ने बिजय को बालासोर जिले के बहानागा थाने में शिकायत दर्ज कराने को कहा है, क्योंकि हादसा वहीं हुआ था. इस बीच, मुख्य सचिव पी के जेना ने रेलवे और ओडिशा पुलिस से शवों पर फर्जी दावा करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा है.

ओडिशा सरकार ने पांच लाख और मोदी सरकार ने दो लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की

गौरतलब है कि रेल हादसे में मारे गये लोगों के परिजनों के लिए ओडिशा के मुख्यमंत्री ने पांच लाख रुपये, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो लाख रुपये और रेल मंत्रालय ने दस लाख रुपये की अनुग्रह राशि का ऐलान किया था. ओडिशा के बालासोर में दो जून को दो यात्री ट्रेन और एक मालगाड़ी के दुर्घटनाग्रस्त होने से कुल 278 लोगों की जान चली गई थी और 1,200 से अधिक लोग घायल हो गये थे.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.