कौन थे सुखदेव सिंह गोगामेड़ी? जिनकी जयपुर में गोली मारकर कर दी गई हत्या, CCTV फुटेज वायरल

23

जयपुर में अज्ञात हमलावरों ने मंगलवार को राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस के अनुसार गोगामेड़ी को गोली लगने के बाद अस्पताल ले जाया गया था, जहां उनकी मौत हो गई.

गोलीबारी में एक हमलावर की भी मौत

जयपुर पुलिस आयुक्त बीजू जॉर्ज जोसेफ ने बताया, मंगलवार दोपहर को श्यामनगर इलाके में हुई गोलीबारी में एक हमलावर की भी मौत हो गई. उन्होंने बताया कि गोगामेड़ी के घर के बाहर से एक व्यक्ति की स्कूटी छीनकर फरार हुए दोनों आरोपियों की पहचान कर उन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास किये जा रहे हैं. पूरी घटना सीसीटीवी में रिकार्ड हो गई. हम घटना में संलिप्त दो आरोपियों की पहचान करने और उनका पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. हत्या की साजिश रचने वाले भी पकड़े जायेंगे.

हमलावरों ने कैसे गोगामेड़ी की हत्या की

पुलिस आयुक्त के अनुसार तीन लोग गोगामेड़ी के आवास पर गए और उन्होंने उनके सुरक्षाकर्मियों से कहा कि वे गोगामेड़ी से मिलना चाहते हैं. सुरक्षाकर्मी उन्हें अंदर ले गए जहां उन्होंने गोगामेड़ी से दस मिनट तक बातचीत की. इसके बाद, उन्होंने उन पर गोलियां चला दीं. पूरी घटना का सीसीटीवी वीडियो भी सामने आया है, जिसमें हमलावरों को गोली चलाते देखा जा सकता है.

गोलीबारी में सुरक्षाकर्मियों को भी लगी गोली

पुलिस आयुक्त बीजू जॉर्ज जोसेफ ने कहा कि गोगामेड़ी के सुरक्षाकर्मियों को भी गोली लगी, जबकि तीन आरोपियों में से एक नवीन सिंह शेखावत की भी गोलीबारी में मौत हो गई. घटना के बाद दो हमलावर घर से बाहर निकले और एक व्यक्ति से स्कूटी छीनकर फरार हो गए.

कौन थे सुखदेव सिंह गोगामेड़ी?

  • सुखदेव सिंह गोगामेदी लोकेंद्र सिंह कालवी की श्री राजपूत करणी सेना का हिस्सा थे, जिसने संजय लीला भंसाली की ‘पद्मावत’ के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया था.

  • करणी सेना के संस्थापक और संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी के साथ मतभेदों के बाद गोगामेड़ी 2015 में श्री राजपूत करणी सेना से अलग हो गए और उन्होंने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना का गठन किया था.

  • इन दोनों संगठनों ने राजपूत समुदाय के संदर्भ में ऐतिहासिक तथ्यों से कथित छेड़छाड़ को लेकर फिल्म पद्मावत का विरोध किया था.

  • गोगामेड़ी दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म ‘ पद्मावत ‘ और गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर मामले के बाद राजस्थान में सुर्खियों में आए थे.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.