सनातन धर्म पर क्यों मचा है हंगामा? तमिलनाडु के सीएम के बेटे उदयनिधि पर बीजेपी का जोरदार हमला

34

डीएमके नेता व तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन के पुत्र उदयनिधि स्टालिन ने ‘सनातन धर्म’ को लेकर विवादित टिप्पणी है. इसको लेकर भाजपा ने रविवार को विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ पर निशाना साधा है. राजस्थान के डूंगरपुर में एक रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने विपक्षी गठबंधन पर वोट बैंक व तुष्टीकरण की राजनीति के लिए सनातन धर्म का अपमान करने का आरोप लगाया. उदयनिधि के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि इन लोगों ने हमारी संस्कृति, हमारे इतिहास व सनातन धर्म का अपमान किया है. कहा कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष कहते हैं नरेंद्र मोदी जी जीतेंगे, तो सनातन का राज आयेगा. सनातन का राज लोगों के दिल में है, उसको कोई हटा नहीं सकता. मोदी जी ने कहा है कि यह देश भारत के संविधान के आधार पर चलेगा.

वहीं, मध्य प्रदेश के चित्रकूट में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने विपक्षी गठबंधन पर नफरत फैलाने व भारत की संस्कृति पर हमला करने का आरोप लगाया. उदयनिधि के बयान की चर्चा करते हुए कहा कि क्या सनातम धर्म को समाप्त करना ही विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ की रणनीति है? उन्होंने देशवासियों का आह्वान किया कि चुनाव में सनातन धर्म विरोधी विपक्षी गठबंधन को खारिज करें. दूसरी तरफ, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने ‘एक्स( ट्विटर)’ पर कहा कि विपक्षी गठबंधन का महज नाम बदलने से भारत और उसकी समृद्ध संस्कृति के प्रति उसके मन में मौजूद नफरत को छुपाया नहीं जा सकता. ठाकुर ने कहा कि यह आश्चर्य की बात नहीं है कि द्रमुक या विपक्षी गठबंधन की कई अन्य पार्टी हिंदुओं व सनातन धर्म के खिलाफ इस हद तक नफरत रखती है कि इसकी तुलना डेंगू व मलेरिया से कर रही है. दूसरों को सनातन धर्म को खत्म करने के लिए उकसा रही है.

03091 pti09 03 2023 000265b
Udhayanidhi Stalin

सुधांशु त्रिवेदी ने क्या कहा

दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने द्रमुक नेता को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि यह बयान उनके द्वारा अलग से नहीं दिया गया, बल्कि इसकी एक पूरी श्रृंखला है. त्रिवेदी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडिया’ का परोक्ष रूप से संदर्भ देते हुए कहा कि द्रमुक नेता की यह टिप्पणी ‘घमंडिया’ गठबंधन की मुंबई में हुई बैठक के 48 घंटे के भीतर आई है जो ‘मोहब्बत की दुकान के दुकानदार ’ के असली चरित्र को उजागर करती है. उन्होंने आरोप लगाया कि यह स्पष्ट है कि उनका प्राथमिक एजेंडा हिंदू धर्म, सनातन धर्म का पूर्ण उन्मूलन है.

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण हुईं हमलावर

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने भी इस मुद्दे पर उदयनिधि स्टालिन पर करारा प्रहार किया. उन्होंने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ (पूर्व में ट्विटर) पोस्ट में लिखा कि भारत के संविधान की शपथ लेकर मंत्री बने उदयनिधि स्टालिन ने मच्छरों की तरह सनातन धर्म का उन्मूलन करने का आह्वान किया और उस समय मंच पर, कोई विरोध किए बिना सुन रहे हैं तमिलनाडु के हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ व्यवस्था मामलों के मंत्री पीके शेखर बाबू….तमिलनाडु कांग्रेस के अध्यक्ष का कहना है कि गठबंधन का उद्देश्य सनातन धर्म को नष्ट करना है…उन्होंने आरोप लगाया कि विपक्षी दलों का गठबंधन ‘इंडिया’ हिंदुओं के खिलाफ है.

Udhayanidhi Stalin

यह है मामला

तमिलनाडु में सत्तारूढ़ डीएमके की युवा इकाई के सचिव व राज्य के मंत्री उदयनिधि स्टालिन ने शनिवार को चेन्नई में एक कार्यक्रम में विवादित बयान दिया. उन्होंने सनातन धर्म को समानता व सामाजिक न्याय के खिलाफ बताया और कहा कि इसका उन्मूलन किया जाना चाहिए. सनातन धर्म की तुलना कोरोना वायरस, मलेरिया व डेंगू वायरस व मच्छरों से होने वाले बुखार से की. कहा कि ऐसी चीजों का विरोध नहीं करना चाहिए, बल्कि इन्हें समाप्त कर देना चाहिए. आरोप लगाया कि सनातन ने लोगों को जातियों के आधार पर बांटा है.

भाषा इनपुट के साथ

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.