कांग्रेस का चीन के साथ क्या रिश्ता है ? राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी ने किया जोरदार हमला

6

बीजेपी ने शुक्रवार को कारगिल में राहुल गांधी के बयान की निंदा की और कांग्रेस नेता पर जोरदार हमला किया. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष के बयान ‘चीन ने भारत की जमीन ले ली है’, का जवाब बीजेपी ने दिया और पूछा कि कांग्रेस का चीन के साथ क्या रिश्ता है. राहुल गांधी के आरोप को बीजेपी ने निराधार और बेतुका बताते हुए खारिज कर दिया. पार्टी ने जोर देकर कहा कि यह विपक्षी पार्टी है जिसने चीन के मामलों में ‘ऐतिहासिक, अक्षम्य अपराध’ किया है.

बीजेपी प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के चुनिंदा कार्यों का हवाला दिया और कहा कि उनकी सरकार ने 1952 में चीनी सेना के उपभोग के लिए 3,500 टन से अधिक चावल भेजने का काम किया था. उन्होंने कांग्रेस से मांग की कि जब यूपीए की सरकार सत्ता में थी तो उस दौरान चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ हुए कथित समझौते का ब्योरा उसे जारी करना चाहिए.

25081 pti08 25 2023 000124b
Rahul Gandhi in ladakh news

कांग्रेस ने ‘ऐतिहासिक और अक्षम्य’ अपराध किया

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने आरोप लगाया कि जब चीन के साथ भारत के संबंध तनावपूर्ण होने लगे थे तब चीनी सेना के लिए चावल भेजने का फैसला कोई गलती नहीं थी बल्कि एक ‘ऐतिहासिक और अक्षम्य’ अपराध था. राहुल गांधी को चीन के बारे में आधारहीन और बेतुकी टिप्पणी करने की आदत सी हो चुकी है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भारत, उसके लोगों और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर इसी तरह की टिप्पणी करते रहे हैं.

Rahul Gandhi in ladakh

राहुल गांधी ने चीनी राजदूत से की थी मुलाकात

आगे त्रिवेदी ने कहा कि डोकलाम संकट के दौरान राहुल गांधी ने चीनी राजदूत से मुलाकात की थी. बीजेपी नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने भारत के सैन्य, राजनयिक और आर्थिक मामलों से निपटने में अभूतपूर्व सफलता हासिल की है. विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस ने हमेशा देश को कमजोर करने का प्रयास किया है. विपक्षी पार्टी को बीजेपी से सीखना चाहिए जिसने संकट के दौरान तत्कालीन सरकारों का समर्थन किया, चाहे वह पाकिस्तान हो या चीन…

बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने आतंकवाद को समर्थन देने के लिए पाकिस्तान को सजा देने से इनकार कर दिया क्योंकि उसे लगा कि इससे शांति वार्ता को नुकसान होगा, जबकि प्रधानमंत्री मोदी की नीति यह है कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकते. उन्होंने कहा कि आज शांति और सुरक्षा का माहौल है जबकि यूपीए के शासनकाल में आतंकवादी विस्फोट नियमित रूप से होते थे.

25081 pti08 25 2023 000126b
Rahul Gandhi interacts with locals during his visit to Leh

क्या कहा राहुल गांधी ने

यहां चर्चा कर दें कि सीमा का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को करगिल में एक जनसभा में कहा था कि लद्दाख में हर व्यक्ति जानता है कि चीन ने ‘हमारी जमीन छीन’ ली है. उन्होंने यह दावा भी किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह दावा ‘पूरी तरह गलत’ है कि एक इंच भी जमीन नहीं छीनी गयी है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.