WFI चीफ बृजभूषण शरण सिंह का ऐलान, कैसरगंज से 2024 का लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

6

भाजपा सांसद और भारतीय कुश्ती संघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह ने रविवार को ऐलान किया है कि वह 2024 का लोकसभा चुनाव कैसरगंज से लड़ेंगे. मालूम हो बृजभूषण सिंह पर महिला रेसलरों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है और उनकी गिरफ्तारी को लेकर ओलंपिक मेडल वीजेता पहलवानों ने मोर्चा खोल दिया है.

कैसरगंज लोकसभा से ही चुनाव लड़ूंगा: बृजभूषण शरण

गोंडा अथवा अयोध्या संसदीय सीट से चुनाव लड़ने के बारे में पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में बृजभूषण शरण सिंह ने कहा, कैसरगंज लोकसभा से ही चुनाव लड़ूंगा, लडूंगा, लडूंगा. उन्होंने जनता के नाम एक संदेश में कहा, 2024 में एक बार फिर भाजपा की सरकार बनेगी, पूर्ण बहुमत की बनेगी. उत्तर प्रदेश की सभी सीटों पर भाजपा जीतकर जाएगी.

मोदी 1971 में प्रधानमंत्री रहे होते तो पाक और चीन से भूमि मुक्त करा लेते

बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि यदि 1971 में नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री रहे होते तो पाकिस्तान द्वारा 1947 में और चीन द्वारा 1962 में हड़पी गई भूमि मुक्त करा ली गई होती. केंद्र में मोदी सरकार के 9 वर्ष पूर्ण होने के मौके पर बालपुर में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही. उन्होंने कहा, 1947 में जब कांग्रेस सत्ता में थी, तब इस देश का बंटवारा हुआ जिसका घाव अभी तक भरा नहीं है. जब कांग्रेस सत्ता में थी, पाकिस्तान द्वारा आक्रमण कर 78,000 वर्ग किलोमीटर जमीन हड़प ली गई. वर्ष 1962 में जब कांग्रेस सत्ता में थी, चीन ने हम पर हमला किया और 33,000 वर्ग किलोमीटर जमीन हड़प ली.

2024 में मोदी के नेतृत्व में फिर बनेगी पूर्ण बहुमत की सरकार : बृजभूषण

बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि 1984 के बाद अल्पमत की सरकारों के गठन के साथ यह चर्चा थी कि भारत में पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बनेगी, लेकिन, 2014 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनी और 2019 में फिर से मोदी के नेतृत्व में सरकार बनी जो 2024 में फिर सत्ता में आएगी.

यौन उत्पीड़न के आरोपों पर कुछ नहीं बोले बृजभूषण सिंह

बृजभूषण शरण सिंह ने जनसभा को संबोधित करते हुए बुहत सारी बातें की, लेकिन उन्होंने अपने खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर कोई बात नहीं की. शनिवार को प्रदर्शनकारी पहलवानों ने आरोप लगाया कि सिंह यौन शोषण पीड़ितों पर दबाव बनाने के लिए अपने प्रभाव का उपयोग कर रहे हैं और उन पर अपने बयान बदलने का दबाव डाल रहे हैं. उन्होंने सिंह के खिलाफ 15 जून तक कोई निर्णायक कदम नहीं उठाए जाने पर अपना आंदोलन दोबारा शुरू करने की धमकी दी. केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा दिए गए आश्वासन के मुताबिक, इस मामले में 200 से अधिक लोगों का बयान ले चुकी दिल्ली पुलिस 15 जून तक आरोप पत्र दाखिल करेगी.

कांग्रेस पर बृजभूषण सिंह ने किया हमला

बृजभूषण सिंह ने 1975 में देश में आपातकाल लगाने को लेकर कांग्रेस पर प्रहार किया और यह आरोप भी लगाया कि कांग्रेस ने 1984 में सिख विरोधी दंगों में सिखों का नरसंहार कराया. कांग्रेस पर हमला करते हुए भाजपा सांसद ने कहा, कांग्रेस वकील को खड़ा करके बाधाएं उत्पन्न करती थी ताकि समय पर राम मंदिर पर निर्णय न किया जा सके. इसने एक दोषी आतंकी को फांसी की सजा से बचाने के लिए आधी रात सुप्रीम कोर्ट को खुलवाया.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.