Wedding Season: भारत में 22 दिनों में होने वाली है 38 लाख शादियां! बाजार में जमकर होगी रुपयों की बारिश

8
wed2
Wedding Season

Wedding Season: भारत में त्योहारी मौसम खत्म होने के साथ ही, शादियों का सीजन शुरू हो गया है. इसे लेकर दीवली के समय से भी बाजारों में रौनक बढ़ गयी थी. लोगों की भीड़ बढ़ने एक तरफ व्यापारियों में उत्साह है. वहीं, दूसरी तरफ, अर्थव्यवस्था का बड़ा फायदा मिलने की उम्मीद की जा रही है.

Wedding Season

Wedding Season: उम्मीद की जा रही है कि इस साल भारत में आज से 15 दिसंबर के बीच में लगभग 38 लाख शादियां होने वाली है. इसके कारण लाखों करोड़ों का कारोबर होने की उम्मीद की जा रही है.

wed5
Wedding Season

दिवाली के त्योहारी सीजन में रिकॉर्ड बिक्री के बाद कारोबारी समुदाय 23 नवंबर से शुरू होने वाले शादी-विवाह के सीजन में उपभोक्ताओं की मांग को पूरा करने के लिए पूरी तरह से तैयार है. व्यापारियों के संगठन कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने उम्मीद जताई है कि 23 नवंबर से शुरू हो रहे शादियों के आगामी सीजन में देशभर में लगभग 38 लाख विवाह संपन्न होंगे, जिनसे वस्तुओं और सेवाओं को मिलाकर देश में लगभग 4.74 लाख करोड़ रुपये का कारोबार होगा.

Wedding Season

कैट ने कहा कि इस सीजन में उपभोक्ताओं द्वारा शादी की खरीदारी और विभिन्न सेवाओं की खरीद से संबंधित खर्च पिछले साल की तुलना में लगभग एक लाख करोड़ रुपये अधिक है. यह अनुमान विभिन्न राज्यों के 30 शहरों में व्यापार निकायों और वस्तुओं और सेवाओं के हितधारकों से मिले आंकड़ों पर आधारित हैं.

wed7
Wedding Season

कैट के महासचिव प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि यह अनुमान लगाया गया है कि इस अवधि (23 नवंबर-15 दिसंबर) के दौरान लगभग 38 लाख शादियां होंगी और कुल खर्च लगभग 4.7 लाख करोड़ रुपये होगा. उन्होंने कहा कि पिछले साल लगभग 32 लाख शादियां हुईं और कुल खर्च 3.75 लाख करोड़ रुपये हुआ. तो, इस वर्ष (खर्च में) लगभग एक लाख करोड़ रुपये की वृद्धि की उम्मीद है जो भारतीय अर्थव्यवस्था और खुदरा व्यापार के लिए एक अच्छा संकेत है.

Wedding Season

कैट ने कहा कि शादियों का सीजन कल देवउठान एकादशी 23 नवंबर से शुरू हो रहा है, जो 15 दिसंबर तक चलेगा. नवंबर में विवाह की तारीखें 23,24,27,28,29 हैं, जबकि दिसंबर में विवाह की तारीखें 3,4,7,8,9 और 15 हैं. प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि सिर्फ दिल्ली में इस सीजन में चार लाख शादियां होने की उम्मीद है, जिससे लगभग 1.25 लाख करोड़ रुपये का कारोबार होने की उम्मीद है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.