Weather Report : दिल्ली में लू और गर्म हवाओं के कहर जारी, पशु-पक्षियों के लिए जलपात्र अभियान शुरू

4

नई दिल्ली : भारत की राजधानी दिल्ली में लू और गर्म हवाओं का कहर जारी है, जिससे पूरा जनजीवन अस्त-व्यस्त और परेशान है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, सोमवार की सुबह दिन निकलने के साथ ही गर्म हवाओं के साथ धूप तेज निकली और न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 27.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. आईएमडी के अधिकारियों का कहना है कि सोमवार को लू की स्थिति बनी रहने और अधिकतम तापमान के 43 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है. उधर, दिल्ली में बढ़ते गर्मी के कहर के मद्देनजर पशु-पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए जलपात्र अभियान भी चलाया जाएगा.

रविवार को अधिकतम तापमान 45 डिग्री दर्ज

आईएमडी के अनुसार, रविवार को शहर के कुछ हिस्सों में अधिकतम तापमान 45 डिग्री तक पहुंच गया, जबकि नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 46.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. नरेला तथा पीतमपुरा वेधशालाओं में अधिकतम तापमान 45 डिग्री सेल्सियस, आयानगर तथा रिज वेधशालाओं में 44 डिग्री सेल्सियस और पालम में 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं, सफदरजंग स्थित वेधशाला में अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

भीषण गर्मी और चिलचिलाती धूप से बढ़ी परेशान

इस बीच, सोमवार को दिल्ली के तापमान में बढ़ोतरी और लू के साथ गर्म हवाओं के चलने से जनजीवन अस्त-व्यस्त है. समाचार एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट के अनुसार, भीषण गर्मी और चिलचिलाती धूप से दिल्ली के निवासियों के अलावा आसपास के इलाकों से आने वाले लोग भी काफी परेशान है. दिल्ली आने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि राजधानी दिल्ली में गर्म हवाएं व लू चल रही हैं. एक व्यक्ति ने बताया कि हम यहां घूमने आए हैं, लेकिन आज पहले के मुकाबले ज्यादा गर्मी है. इससे हमें काफी दिक्कत हो रही है.

दिल्ली में जलपात्र अभियान शुरू

उधर, समाजसेवी और शिक्षाविद डॉ वीपी सिंह ने दिल्ली में भीषण गर्मी के बीच एनसीआर में पक्षी जलपात्र अभियान चलाने की घोषणा की है. ये अभियान दिल्ली एनसीआर में इंटरनेशनल ह्यूमन राइट एंड क्राइम कंट्रोल काउंसिल के सहयोग से शुरुआत की गई है. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि आज दिल्ली और एनसीआर में जिस तरह से भीषण गर्मी पड़ रही है, उससे सबसे ज्यादा परेशानी पशु-पक्षियों और जीव जंतुओं को हो रही है. उन्होंने कहा कि मानव धर्म हमेशा से ही पशु-पक्षियों और जीव-जंतुओं के प्रति उदार भावना रखता है. इसी को ध्यान में रखते हुए हम दिल्ली एनसीआर में करीब 500 से ज्यादा जगहों पर इन पशु-पक्षियों और जीव जंतुओं के लिए पानी के मिट्टी और पत्थर के बर्तन रख रहे हैं, ताकि यहां के पशु-पक्षियों और जीव-जंतुओं की प्यास बुझ सके.

रिज एरिया समेत 500 स्थानों पर रखे गए जलपात्र

उन्होंने कहा कि दिल्ली के रिज एरिया समेत करीब 500 जगहों पर मिट्टी के जलपात्र रखे गए हैं. इन जगहों पर पक्षियों और जीव-जंतुओं का बसेरा होता है. उन्होंने कहा कि संस्था के द्वारा इन जलपात्रों में प्रतिदिन सुबह-शाम पानी भरने का काम भी संस्था के द्वारा किया जा रहा है. इस काम के लिए एक खास वोलेंटियर टीम काम कर रही है, जो सुबह शाम जलपात्रों में पानी और दाना भरने का काम कर रही है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.