Weather Forecast : पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र और दिल्ली में भारी बारिश, हिमाचल-जम्मू में भूस्खलन

8

मध्य प्रदेश के आठ जिलों में भारी बारिश, ऑरेंज अलर्ट जारी

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मध्य प्रदेश के आठ जिलों में अगले 24 घंटों में भारी और बहुत भारी बारिश के अनुमान के मद्देनजर ऑरेंज अलर्ट और 22 जिलों में मूसलाधार बारिश के लिए यलो अलर्ट जारी किया है. आईएमडी द्वारा जारी पूर्वानुमान के अनुसार मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में अगले 24 घंटों में (सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे से मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे तक) कहीं-कहीं पर अत्यधिक बारिश (205.4 मिलीमीटर से अधिक) एवं गरज के साथ बारिश होने की संभावना है और इसके मद्देनजर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. वहीं, आईएमडी ने प्रदेश के सात जिलों बुरहानपुर, सागर, छिंदवाड़ा, सिवनी, नर्मदापुरम, बैतूल और हरदा में अगले 24 घंटों में (सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे से मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे तक) कहीं-कहीं पर बहुत भारी बारिश (115.6 मिलीमीटर से 204.4 मिलीमीटर तक) एवं बिजली गिरने के अनुमान के मद्देनजर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

मुंबई और उसके उपनगरों में हुई मध्यम से भारी बारिश

मुंबई और उसके उपनगरों में पिछले 24 घंटों में मध्यम से भारी बारिश हुई. मौसम विभाग ने मंगलवार तक और अधिक बारिश होने की संभावना जताई है. मध्य रेलवे (सीआर) के एक प्रवक्ता ने कहा कि बारिश से मुंबई की रेल सेवाओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा लेकिन एक मालगाड़ी के इंजन में खराबी आ जाने से उपनगर रेलवे नेटवर्क के कर्जत-बदलापुर खंड पर रेल सेवाएं प्रभावित हुईं. बृहन्मुंबई विद्युत आपूर्ति और परिवहन (बेस्ट) के एक प्रवक्ता ने कहा कि विभाग की बस सेवाएं समान्य रहीं और शहर में बसों के मार्ग में कोई परिवर्तन नहीं हुआ. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि दिल्ली और मुंबई में रविवार को मानसून एक साथ आया जोकि 21 जून, 1961 के बाद पहली बार हुआ है.

पंजाब और हरियाणा के विभिन्न इलाकों में हुई बारिश

पंजाब और हरियाणा के विभिन्न हिस्सों में बीते 24 घंटों में बारिश हुई. मौसम विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते 24 घंटों में हरियाणा के रोहतक में 96.3 मिलीमीटर बारिश हुई. वहीं, नारनौल में 24 मिलीमीटर, करनाल में 22.1 मिलीमीटर, कुरुक्षेत्र में 19.5 मिलीमीटर, गुरुग्राम में 9.5 मिलीमीटर, अम्बाला में 7.4 मिलीमीटर, सिरसा में 4.9 मिलीमीटर और भिवानी में 1.7 मिलीमीटर बारिश हुई. पंजाब के अमृतसर में सबसे अधिक 113.2 मिलीमीटर बारिश हुई. इसके बाद गुरदासपुर में 26.7 मिलीमीटर, फरीदकोट में 24.8 मिलीमीटर, फिरोजपुर में 16 मिलीमीटर और पठानकोट में 14.1 मिलीमीटर बारिश हुई.

राजस्थान में कई जगह भारी बारिश: बिजली गिरने से चार की मौत, चार घायल

दक्षिण पश्चिम मानसून के रविवार को राजस्थान के कुछ हिस्सों में प्रवेश के साथ उदयपुर, कोटा, बीकानेर और जयपुर संभाग के जिलों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश और कुछ जिलों में भारी बारिश दर्ज की गई. वहीं, आकाशीय बिजली गिरने से प्रदेश में अब तक पाली, चित्तौड़गढ़ और बारां जिलों में चार लोगो की मौत हो गई, जबकि चार अन्य लोग घायल हो गए. मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि सोमवार सुबह तक अलवर के कठूमर में 10 सेंटीमीटर, राजसमंद के खमनौर में 10 सेंटीमीटर, झुंझुनूं के सूरजगढ में 8 सेंटीमीटर, अलवर के थानागाजी में 8 सेंटीमीटर, चित्तोडगढ के भैंसरोडगढ़ में 7 सेंटीमीटर, सीकर के अजीतगढ़ में 7 सेंटीमीटर, कोटा में 7 सेंटीमीटर, कोटा के रामगंज मंडी में 7 सेंटीमीटर, अलवर के कोटकासिम में 6 सेंटीमीटर और दौसा के बसवार में 6 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई.

हिमाचल प्रदेश : मंडी में अचानक बाढ़ आने से राजमार्ग अवरुद्ध, यात्री फंसे

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के औट में भीषण बारिश से अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग अवरुद्ध होने से यहां सैकड़ों यात्री फंस गए. भारी बारिश के कारण औट के करीब खोतीनाला में पंडोह-कुल्लु मार्ग पर अचानक बाढ़ आ गई. बाढ़ के कारण यात्री रविवार शाम से फंसे हुए हैं. मंडी प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि मरम्मत का कार्य जारी है और मार्ग से बड़े पत्थरों को हटाने के लिए विस्फोटकों का इस्तेमाल किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि चंडीगड़ को मनाली से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग-21 लगभग सात से आठ घंटों में यातायात के लिए बहाल हो जाएगा. अधिकारियों ने कहा कि यात्रियों को सलाह दी जाती है कि सड़क खुलने से पहले मंडी की ओर यात्रा ना करें.

चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग अवरुद्ध

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के औट में भीषण बारिश से अचानक आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग अवरुद्ध होने से यहां सैकड़ों यात्री फंस गए. भारी बारिश के कारण औट के करीब खोतीनाला में पंडोह-कुल्लु मार्ग पर अचानक बाढ़ आ गई. बाढ़ के कारण यात्री रविवार शाम से फंसे हुए हैं. मंडी प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि मरम्मत का कार्य जारी है और मार्ग से बड़े पत्थरों को हटाने के लिए विस्फोटकों का इस्तेमाल किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि चंडीगड़ को मनाली से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग-21 लगभग सात से आठ घंटों में यातायात के लिए बहाल हो जाएगा.(भाषा)

दिल्लीः भीषण गर्मी से राहत

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को सुबह मौसम सुहावना रहने के साथ ही न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी.विभाग के अनुसार, सुबह साढ़े आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में शहर में दो मिलीमीटर बारिश हुई. सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 89 प्रतिशत रहा. मौसम विज्ञान विभाग ने दिन में शहर में बादल छाए रहने और हल्की से मध्यम बारिश होने का पूर्वानुमान लगाया है. अधिकतम तापमान के 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने के आसार हैं.(भाषा)

भारी बारिश के कारण श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग जाम

जम्मू और कश्मीर के रामबन सेक्टर में भारी बारिश के कारण हुए भूस्खलन के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग अवरुद्ध हो गया है. रास्ता रुक जाने के कारण उधमपुर जिले में बड़ी संख्या में ट्रक फंसे हुए हैं.

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के बाद भूस्खलन

हिमाचल प्रदेश में भी बारिश हो रही है. प्रदेश के मंडी जिले में जोरदार बारिश के कारण चंडीगढ़-मनाली राजमार्ग पर 7 मील के पास भूस्खलन हुआ है. भूस्खलन के कारण भारी ट्रैफिक जाम हो गया.

राजस्थान में भारी बारिश से जलजमाव

राजस्थान में भारी बारिश के बाद श्री गंगानगर शहर के कई हिस्सों में जलजमाव हो गया है. आईएमडी ने कहा है कि श्री गंगानगर में आज आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और बारिश या आंधी या धूल भरी आंधी चलने की संभावना है.

मुंबई में जोरदार बारिश

मानसून की एंट्री के साथ ही मुंबई में झमाझम बारिश हो रही है. बीएससी ने बताया कि पिछले 24 घंटों में मुंबई शहर में 31 मिमी बारिश हुई, पूर्वी उपनगरों में 54 मिमी बारिश हुई और पश्चिमी उपनगरों में 59 मिमी बारिश हुई. मुंबई में आज भी जोरदार बारिश की संभावना है.

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश 78 लाख रुपये का नुकसान

हिमाचल प्रदेश के सोलन और हमीरपुर जिलों में बीते दिन बादल फटने से अचानक बाढ़ आ गई, जबकि शिमला, मंडी और कुल्लू जिलों में भारी बारिश के कारण हुईं घटनाओं में दो लोगों की मौत हो गयी. बाढ़ और भारी बारिश के कारण फसलों को नुकसान पहुंचा तथा मकान और वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं. इसके अलावा बाढ़ के पानी में कई मवेशी बह गए. राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र के अनुसार रविवार को हमीरपुर और शिमला जिले में एक-एक व्यक्ति डूब गया. बारिश ने 11 मकानों और वाहनों के साथ-साथ चार गौशालाओं को भी नुकसान पहुंचाया. केंद्र के मुताबिक पिछले 24 घंटों में राज्य को अनुमानित 78 लाख रुपये का नुकसान हुआ है.

उत्तराखंड में बारिश के कारण दो लोगों की मौत

उत्तराखंड में भी मानसून के दस्तक के साथ भारी बारिश शुरु हो गई है. मानसून बारिश के कारण दो लोगों की मौत हो गयी तीन अन्य घायल हो गए. सीएम पुष्कर सिंह धामी ने राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष पहुंचकर प्रदेश भर में वर्षा की स्थिति का जायजा लिया तथा चारधाम श्रद्धालुओं से मौसम की अद्यतन जानकारी लेकर ही यात्रा करने की अपील की. रूद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ मोटर मार्ग पर रविवार को एक वाहन के भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के मलबे की चपेट में आने से उसमें सवार एक व्यक्ति की मौत हो गयी .

दिल्ली में बारिश

दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में मानसून की एंट्री हो गई है. मानसून अपने तय समय से दो दिन पहले रविवार को ही राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचा वहीं मानसून की एंट्री से लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली है. मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली में आज भी बारिश होगी.

झारखंड में झमाझम बारिश

झारखंड में मानसून की दस्तक के साथ ही झमाझम बारिश शुरू हो गई है. राजधानी रांची समेत कई और जिलों में मानसून की जोरदार बारिश शुरू हो गई है. सोमवार के रांची में सुबह से ही बारिश हो रही है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.