Weather Forecast LIVE: अगले पांच साल में दो मौकों पर दुनिया में पड़ेगी भयानक गर्मी

6

अगले पांच साल में दो मौकों पर दुनिया में पड़ेगी भयानक गर्मी

विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्ल्यूएमओ) ने पूर्वानुमान व्यक्त किया है कि अगले पांच साल में तीन में से दो अवसर ऐसे होंगे, जब दुनिया अस्थायी रूप से जलवायु परिवर्तन के सबसे बुरे प्रभावों को सीमित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत वैश्विक तापमान सीमा तक पहुंच जाएगी. वैज्ञानिकों को लगता है कि अल नीनो से गर्मी का एक अस्थायी विस्फोट कोयले, तेल और गैस के जलने से मानव-जनित गर्मी को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा और फिर इसमें थोड़ी कमी आएगी.

दिल्ली की वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी के करीब, न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बुधवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘गंभीर’ श्रेणी के बेहद निकट रहा. वहीं, बादल छाए रहने के साथ ही न्यूनतम तापमान औसत से एक डिग्री नीचे 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, सुबह नौ बजे दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 395 दर्ज किया गया जो ‘बेहद खराब’ श्रेणी में आता है और ‘गंभीर’ की श्रेणी से महज पांच अंक नीचे है.

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश की संभावना, येलोअलर्ट जारी की

हिमाचल प्रदेश के मौसम कार्यालय ने बुधवार को राज्य भर में कुछ जगहों पर आंधी और बिजली गिरने का अनुमान जताते हुए ‘येलो’ अलर्ट जारी की है. राज्य में बुधवार को बारिश होने की संभावना है, जो शनिवार तक जारी रहेगी. मौसम विभाग ने कहा कि बारिश के दौरान निचले और मध्य पहाड़ी क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश और बर्फबारी होने की उम्मीद है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने खेतों में फसलों, फलदार वृक्षों और पौधों को नुकसान पहुंचने की आशंका जताते हुए किसानों को पर्याप्त व्यवस्था करने और कीटनाशकों के छिड़काव को फिर से शुरू करने की सलाह दी है.

पिछले 24 घंटों के दौरान कैसा रहा मौसम 

स्काईमेट वेदर के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर भारत, पश्चिम बंगाल, ओडिशा के उत्तरी तट और झारखंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें देखी गईं तथा एक-दो स्थानों पर तेज बारिश हुई. जबकि, राजस्थान, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, दक्षिण हरियाणा और दिल्ली में धूल भरी आंधी के साथ छिटपुट हल्की बारिश हुई.

दिल्ली में सुबह न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री दर्ज 

राजधानी दिल्ली में आज सुबह बादल छाए रहने से मौसम बेहद सुहावना रहा और इस दौरान न्यूनतम तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने यह जानकारी दी. केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, सुबह 9 बजे दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 395 दर्ज किया गया जो बेहद खराब श्रेणी में आता है.

दिल्ली में बारिश के आसार 

भारत मौसम विज्ञान विभाग अगले 2 घंटों के दौरान दिल्ली, उत्तरी दिल्ली, उत्तर-पूर्वी दिल्ली, उत्तर-पश्चिम दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, मध्य-दिल्ली, पूर्वी दिल्ली और एनसीआर (लोनी देहात,हिंडन एएफ स्टेशन, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला) सोनीपत, रोहतक, खरखौदा (हरियाणा) बड़ौत, बागपत, मेरठ, मोदीनगर, गढ़मुक्तेश्वर, हापुड़, सियाना, सिकंदराबाद, बुलंदशहर, जहांगीराबाद (यूपी) और आसपास के क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है

यूपी में बारिश और आंधी से बदलेगा मौसम

उत्तर प्रदेश के मौसम में उतार चढ़ाव का सिलसिला लगातार जारी है. गर्मी के प्रकोप के बीच कुछ स्थानों में धूल भरी आंधी और हल्की बारिश की वजह से तापमान में बदलाव देखने को मिल रहा ह. आज भी प्रदेश में धूल भरी हवाएं और बारिश का दौर बना रहेगा. कई जनपदों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है.

झारखंड में मॉनसून देर से देगी दस्तक 

झारखंड में मॉनसून आने का सामान्य समय जून के दूसरे हफ्ते (14-15 जून) के आसपास है. इस वर्ष केरल में बंगाल की खाड़ी से मॉनसून चार जून के आसपास आ सकता है. इसका असर झारखंड पर भी पड़ेगा. मॉनसून के सामान्य रुख में कोई बदलाव नहीं हुआ, तो झारखंड में जून के तीसरे हफ्ते (20 जून के आसपास) मॉनसून आ सकता है. बता दें मौसम विभाग ने इस वर्ष सामान्य से 5 प्रतिशत तक कम बारिश का पूर्वानुमान लगया है. भारत में केरल से ही मॉनसून प्रवेश करता है. अरब सागर और बंगाल की खाड़ी के रास्ते मॉनसून आता है. झारखंड में आमतौर पर मॉनसून के दौरान करीब 1,022 मिमी बारिश होती है.

झारखंड में नहीं मिलेगी गर्मी से राहत

पश्चिमी सिंहभूम के चाईबासा में सोमवार की शाम आयी आंधी-बारिश ने भीषण गर्मी से राहत दी, लेकिन मंगलवार से तापमान एकबार फिर चढ़ गया. बता दें पश्चिमी सिंहभूम के लोगों को अभी गर्मी से राहत नहीं मिलने वाली है. आने वाले 10 दिनों तक गर्मी लोगों को सतायेगी. अभी बारिश होने के कोई आसार भी नहीं है. इस कारण सतर्कता जरूरी है. आगामी 21 से 23 मई तक अधिकतम तापमान बढ़कर 44 डिग्री सेल्सियम पहुंचने की संभावना जताई जा रही है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.