Weather Forecast : आ रहा चक्रवाती तूफान! बंगाल की खाड़ी पर बना गहरा दबाव, इन राज्यों में भारी बारिश

38

भुवनेश्वर : सर्दी के मौसम में ठंड बढ़ाने के लिए चक्रवाती तूफान आने के लिए तैयार है. बंगाल की खाड़ी में गहरा दबाव बन गया है. संभावना है कि इसके बाद तेज हवा के साथ चक्रवाती तूफान भी आ सकता है. फिलहाल, बंगाल की खाड़ी में बना गहरा दबाव 17 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-पूर्व दिशा की ओर बढ़ रहा है, जिससे बांग्लादेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, असम और मेघालय आदि राज्यों में बारिश होने की संभावना है.

चक्रवाती तूफान का केंद्र

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने गुरुवार को कहा कि बंगाल की खाड़ी में बना गहरे दबाव का क्षेत्र शुक्रवार तक चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है और बांग्लादेश तट को पार कर सकता है. मौसम विभाग ने अपने एक बुलेटिन में कहा कि गुरुवार को दबाव के क्षेत्र ने मजबूत होकर गहरे दबाव के क्षेत्र का रूप ले लिया और वह 17 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-उत्तरपूर्व दिशा में बढ़ रहा है.

उसने कहा कि गुरुवार सुबह साढ़े आठ बजे यह आंध्रप्रदेश के विशाखापत्तनम के पूर्व- दक्षिणपूर्व में करीब 390 किलोमीटर तथा ओडिशा में पारादीप के दक्षिण-दक्षिणपूर्व में 320 किलोमीटर की दूरी पर था. आईएमडी ने बुलेटिन में कहा कि इस तंत्र के उत्तर-उत्तपूर्व दिशा की ओर बढ़ते रहने एवं अगले 24 घंटे में मजबूत होकर चक्रवाती तूफान का रूप लेने एवं शनिवार तड़के मोंगला एवं खेपूपारा के बीच बांग्लादेश तट को पार कर लेने की आशंका है. हवा की रफ्तार 55-65 किलोमीटर प्रति घंटे से 75 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है.

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि उसके प्रभाव से ओडिशा के कई हिस्सों खासकर तटीय क्षेत्र में भारी वर्षा होगी तथा 40 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी. मछुआरों को 18 नवंबर तक गहरे समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है, क्योंकि इस दौरान वहां स्थिति बहुत खराब रहेगी.

बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग के अनुसार, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में गुरुवार और शुक्रवार को कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा, 16 से 18 नवंबर के दौरान नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा और शुक्रवार को दक्षिण असम और पूर्वी मेघालय में भी बारिश का अनुमान है. वहीं, मौसम पूर्वानुमानकर्ता स्काईमेट के अनुसार, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कुछ तटीय स्थानों जैसे सातपाड़ा, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक, बालेश्वर, बारीपदा, दीघा, कोंटाई, डायमंड हार्बर, हल्दिया, नंदीग्राम और दक्षिण 24 परगना में तूफानी मौसम और भारी बारिश की आशंका है. इस अवधि में वर्षा होती है. मौसम विज्ञानी ने कहा कि मेदनीपुर, हावड़ा और कोलकाता डिप्रेशन के केंद्र से अपेक्षाकृत सुरक्षित दूरी बनाए रखेंगे. हालांकि, मध्यम या हल्की बारिश के साथ आसमान में बादल छाए रहने की संभावना है.

हवा की चेतावनी

मौसम विभाग ने गुरुवार को तमिलनाडु के साथ-साथ दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर 35-45 किमी प्रति घंटे से लेकर 55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना जाहिर की है. इसने आंध्र, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटों पर 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तूफानी हवा चलने और 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक चलने का भी अनुमान लगाया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.