Weather Alert: हिमाचल में बारिश और बर्फबारी हो रही है.

4

05021 pti02 05 2024 000220a

Weather Alert: हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर मौसम का मिजाज बदल गया है. पर्यटकों से गुलजार मनोरम दृश्य वाले हिमाचल प्रदेश के कई इलाके हिमस्खलन और भारी बर्फबारी की मार झेल रहे हैं. प्रदेश के कई इलाकों में भारी बर्फबारी और हिमस्खलन को देखते हुए प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है. साथ ही प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि वो ऊंची जगहों में जाने से बचें. हिमाचल प्रदेश के जनजातीय और पर्वतीय इलाकों मौसम का मिजाज बिगड़ने के बाद अधिकारियों ने आज यानी बुधवार को कई इलाकों में हिमस्खलन की चेतावनी जारी की.

प्रशासन ने जारी की चेतावनी

मौसम में आये बदलाव को लेकर कुल्लू जिला प्रशासन ने चेतावनी जारी की है. कुल्लू के डीसी तोरूल एस रवीश ने कहा है कि पिछले चार दिनों से मनाली में बारिश और बर्फबारी हो रही है. इस वजह से नेहरू कुंड के बाद वाहनों को रोक दिया गया है. केवल चार पहिया वाहनों को ही आगे जाने की अनुमति दी जा रही है. उन्होंने कहा कि सोलंग नाला के बाद सड़क बंद है. भराई, डीटीआर मार्ग बाधित है. जलोरी के पास रोहतांग रोड और एनएच 305 वाहन यातायात के लिए बंद हैं. हम पर्यटकों से आग्रह करेंगे कि वे जहां हैं वहीं रहें और ऊंची जगहों पर न जाएं.

किन इलाकों में हो रही है बर्फबारी

वहीं, चंडीगढ़ स्थित रक्षा भू सूचना विज्ञान अनुसंधान प्रतिष्ठान ने लाहौल, स्पीति, किन्नौर, शिमला, चंबा और कुल्लू जिले के ऊंचाई वाले इलाकों में गुरुवार तक हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है. गौरतलब है कि प्रदेश में एक जनवरी से लेकर अब तक भूस्खलन, ऊंचाई से गिरने, डूबने और आग लगने से करीब 61 लोगों की मौत हो चुकी है और दो लोग लापता हुए हैं. राज्य आपात प्रतिक्रिया केंद्र के मुताबिक चार राष्ट्रीय राजमार्ग सहित कुल 405 मार्गों पर बर्फबारी की वजह से वाहनों की आवाजाही बंद हो गयी और बिजली के 577 ट्रांसफार्मर ठप पड़ गये. लाहौल और स्पीति में सबसे ज्यादा 288 मार्गों पर आवाजाही बाधित हुई. वहीं चंबा 83 और कुल्लू में 21 मार्गों पर वाहन नदारद रहे. कोकसर और अटल टनल के इलाकों में 45 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई, वहीं सिस्सू और कोठी में 30 सेंटीमीटर तक बर्फबारी दर्ज की गयी.

शून्य से नीचे पहुंचा तापमान

इसके अलावा केलांग, कुसुमसेरी में 18 सेंटीमीटर और भरमौर में 15.3 सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गयी. मौसम केंद्र के मुताबिक मनाली में सबसे अधिक 29 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी है. मनाली के बाद सलूनी, तिस्सा और चंबा में भी बारिश दर्ज की गयी. वहीं सियोबाग और बैजनाथ में भी क्रमश: 11 मिलीमीटर से लेकर आठ मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है. वहीं, बर्फबारी और बारिश के कारण पूरे इलाके में न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई. कई जगहों पर तो तापमान शून्य से नीचे चला गया. भाषा इनपुट के साथ

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.