इंटरनेट यूजर हो जाएं सावधान! करते हैं एक ही पासवर्ड का हर जगह यूज तो होगा नुकसान

38

यदि आप इंटरनेट यूजर हैं तो ये खबर आपके काम की है. जी हां…दिल्ली पुलिस ने देश में इंटरनेट यूजर्स से एक महत्वपूर्ण जानकारी शेयर की है और चेतावनी दी है. चेतावनी पासवर्ड को लेकर पुलिस के द्वारा दी गई है. पुलिस ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर इंटरनेट यूजर्स से कई अकाउंट्स के लिए एक ही पासवर्ड का उपयोग न करने को कहा है. पुलिस की ओर से कहा गया है कि सोशल मीडिया के कई अकाउंट के लिए एक ही पासवर्ड रखना खतरे से खाली नहीं है. यह आपको नुकसान पहुंचा सकता है. हैकर्स से एक कदम आगे रहें! वीक यानी कमजोर पासवर्ड से बचें और उनका दोबारा उपयोग न करें… पुलिस की ओर से जो एक्स पर बात कही गई है उसमें दो तस्वीर लगी है. इन तस्वीरों में भूपेन्द्र जोगी नाम का एक इंटरनेट यूजर इंस्टाग्राम और जीमेल के लिए एक ही पासवर्ड का उपयोग करता हुआ नजर आ रहा है. यूजर जीमेल और सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम में एक ही पासवर्ड यूज करता दिख रहा है जिसको लेकर पुलिस ने ऐसा ना करने की सलाह दी है.

बताया गया है कि दुनिया भर में ज्यादातर साइबर अपराध कमजोर पासवर्ड से जुड़े हैं. हमारे ऑनलाइन अकाउंट को सुरक्षित रखने के लिए पासवर्ड सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. दिल्ली पुलिस ने महत्वपूर्ण साइबर सुरक्षा के बारे में जानकारी साझा की. अपने सोशल मीडिया पोस्ट में पुलिस ने कहा है कि क्षेत्र के विशेषज्ञ भी गलतियां करते नजर आते हैं. इसलिए बेहतर होगा कि आप एक ऐसा पासवर्ड यूज करें जो कोई अन्य किसी गलत तरीके से यूज ना कर सके. अपनी साइबर सुरक्षा पर ध्यान देने की जरूरत है. पोस्ट के साथ दो अखबारों की कटिंग भी लगाई गई है. इसमें से एक में कथित तौर पर एक टेक्निकल जानकार को ई-घोटाले में 50 लाख रुपये का नुकसान होने की बात कही गई है. वहीं, सबसे बड़े ई-टास्क धोखाधड़ी में एक सेवानिवृत्त कर्नल को 2.5 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.

साइबर फ्रॉड होने पर कहां करें कम्प्लेन

आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस के पास साइबर अपराध की रिपोर्ट करने के लिए एक हेल्पलाइन और वेबसाइट है. इंटरनेट यूजर्स http://cybercrime.gov.in पर साइबर अपराध के बारे में रिपोर्ट या शिकायत दर्ज कराने में सक्षम है. वे किसी भी साइबर अपराध के बारे में रिपोर्ट करने या शिकायत करने के लिए 1930 भी डायल कर सकते हैं. इसको लेकर भारत सरकार ने भी पहल की है. सरकार ने cybercrime.gov.in पीड़ितों/शिकायतकर्ताओं को साइबर अपराध की शिकायतों को ऑनलाइन रिपोर्ट करने की सुविधा प्रदान की है. इस पोर्टल पर दर्ज की गई शिकायतों का निपटारा कानून प्रवर्तन एजेंसियों/पुलिस द्वारा शिकायतों में उपलब्ध जानकारी के आधार पर किया जाता है. जल्द से जल्द कार्रवाई के लिए शिकायत दर्ज करते समय सही और सटीक विवरण प्रदान करना बहुत जरूरी है.

साबइर अपराधी लोगों को लगाते हैं लाखों का चूना

आपको बता दें कि प्रत्येक दिन देश के किसी ना किसी कोने से साइबर अपराध की खबर आती है. इसको लेकर पुलिस के पास लोग शिकायत लेकर पहुंचते हैं. साइबर अपराधी बहुत ही चलाकी से डाटा एक एकत्रित करते हैं और लोगों को लाखों का चूना लगाते हैं. यही वजह है कि इंटरनेट यूजर को सावधानी से सोशल मीडिया प्लेटफार्म का यूज करना चाहिए.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.