‘वडोदरा में नाव पलटने की घटना हादसा नहीं मर्डर है’, कांग्रेस ने क्यों कहा ऐसा

8

गुजरात में वडोदरा शहर के बाहरी इलाके में स्थित हरनी झील में गुरुवार को एक नाव पलट गयी जिसमें 14 विद्यार्थियों और दो शिक्षकों की मौत हो गयी. नाव पलटने की घटना मामले में 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इस बीच घटना पर वडोदरा नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस नेता अमी रावत ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि हम इसे मर्डर मानकर चल रहे हैं. यह कोई दुर्घटना नहीं. उन्होंने कहा कि हम मांग करते हैं कि इस घटना की जांच किसी सिटिंग जज से कराई जाए. लापरवाही की वजह से दुर्घटना हुई है. नाव में कोई लाइफ जैकेट या लाइफगार्ड मौजूद नहीं था.

कांग्रेस नेता अमी रावत ने आगे कहा कि जिम्मेदार पाए गए लोगों के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू की जानी चाहिए. 2016 में, जब यह परियोजना ठेकेदारों को आवंटित की गई थी, तो हमने इस पर आपत्ति जताई थी. आपको बता दें कि छात्र पिकनिक मनाने आये थे और हरनी झील में नाव की सवारी कर रहे थे, तभी दोपहर में यह हादसा हो हुआ जिसके बाद वहां चीख पुकार मच गई. हादसे में कुछ बच्चे बचाए गये हैं जिनका इलाज जारी है.

19011 pti01 18 2024 000504b
Vadodara boat accident photo

पीएम मोदी ने जताया दुख

एनडीआरएफ की ओर से जानकारी दी गई है उसके अनुसार, चार लोग अभी भी लापता हैं और बचाव अभियान जारी है. इससे पहले, अधिकारियों ने बताया था कि नाव में 27 लोग सवार थे, जिनमें 23 विद्यार्थी और चार शिक्षक शामिल थे. इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म ‘एक्स’ पर हादसे पर दुख जताया है. उन्होंने कहा है कि वडोदरा की हरनी झील में हुई नौका दुर्घटना में लोगों की मौत से व्यथित हूं. दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ है. प्रत्येक मृतक के परिजनों को प्रधानमंत्री राहत कोष से दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जायेगी. घायलों को 50 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी.

अबतक दो गिरफ्तार

गुजरात के गृह राज्य मंत्री सांघवी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमें पता चला है कि नौका पर केवल 10 छात्र ही लाइफ जैकेट पहने हुए थे जो साबित करता है कि इसमें आयोजकों की गलती थी. भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) और 308 (गैर इरादतन हत्या का प्रयास) के तहत एक प्राथमिकी दर्ज करने का काम किया गया है. अबतक दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि अन्य दोषियों को पकड़ने के लिए टीम गठित की गई है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.