उत्तराखंड सुरंग हादसा : टनल में फंसे मजदूरों से मात्र 20 मीटर दूर हैं बचावकर्मी, जल्दी ही मिलेगी ‘जिंदगी’

6

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में सुरंग में फंसे 41 मजदूरों को बाहर निकालने के लिए बचाव कार्य अभी भी जारी है, लेकिन अभी तक किसी भी मजदूर को बाहर नहीं निकाला गया है. बुधवार सुबह प्रधानमंत्री कार्यालय के पूर्व सलाहकार भास्कर खुल्बे और उत्तरकाशी के जिला मजिस्ट्रेट अभिषेक रुहेला सिलक्यारा सुरंग के पास पहुंचे, जहां दुर्घटना हुई है. दोनों अधिकारियों ने वहां स्थिति का जायजा लिया.

लगभग 40 मीटर तक खुदाई पूरी

गौरतलब है कि 12 नवंबर को उत्तरकाशी में सुरंग का एक हिस्सा ढह जाने के बाद 41 श्रमिक फंस गए हैं, जिन्हें बाहर निकालने के लिए बचाव कार्य जारी है. सुरंग में फंसे मजदूरों को बाहर निकालने के लिए दूसरी ओर से सुरंग बनाया जा रहा है. प्रधानमंत्री कार्यालय के पूर्व सलाहकार भास्कर खुल्बे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह हमारे लिए बहुत ही खुशी की बात है कि ड्रिल करते हुए 39 मीटर तक खुदाई की जा चुकी है. सब कुछ अच्छा अच्छा चल रहा है, जल्दी ही हम 60 मीटर तक की खुदाई कर लेंगे और मजदूरों को बाहर निकाल लिया जाएगा. भास्कर खुल्बे ने बताया कि मैंने उन लोगों से बात की है, उनका हौसला बुलंद है, जल्दी ही सबकुछ ठीक हो जाएगा.

पीएम मोदी ने की सीएम धामी से बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से बचाव कार्यों के बारे में जानकारी ली है. ज्ञात हो कि अमेरिकी ऑगर मशीन से मंगलवार देर रात फिर से ड्रिलिंग शुरू कर दी गयी और अब तक मलबे के 40 मीटर अंदर तक पाइप डाले जा चुके हैं. शुक्रवार को ड्रिलिंग मशीन की किसी चट्टान ने टकरा गई थी उसके बाद ड्रिलिंग रोक दी गई थी, लेकिन अब ड्रिलिंग फिर से शुरू हो गई है.

पाइपलाइन के जरिए पहुंचाया जा रहा है खाना

सुरंग के अंदर पाइपलाइन बिछाकर मजदूरों को खाना और पानी पहुंचाया जा रहा है. मंगलवार को मजदूरों का वीडियो भी सामने आया, जिसमें वे सुरंग के अंदर सुरक्षित पाए गए हैं. उन्हें जल्द से जल्द बाहर निकालने की प्रक्रिया जारी है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.