Uttarakhand: गार्ड ने बैंक मैनेजर पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग, अटेंप्ट टू मर्डर का मामला दर्ज

5

Uttarakhand: उत्तराखंड के धारचूला से बेहद ही अजीबो गरीब घटना सामने आयी है. यहां छुट्टी नहीं मिलने पर विवाद इतना बढ़ गया कि सिक्योरिटी गार्ड ने बैंक मैनेजर पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी. जलते हुए आग को देखते हुए आसपास के लोगों ने उसपर काबू पाने में जुट गए और काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. SBI बैंक मैनेजर को काफी आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया. शुरूआती इलाज के बाद मैनेजर हेलीकॉप्टर के माध्यम से हल्द्वानी के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया. सिक्योरिटी गार्ड को पोलस ने हिरासत में ले लिया है.

पेट्रोल डालकर लगा दी आग

पिथौरागढ़ के पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने बताया कि- वारदात को अंजाम देने वाले दीपक क्षेत्री नाम के गार्ड को गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि घटना में प्रबंधक मुहम्मद ओवेस करीब 36 प्रतिशत जल गए हैं और निकटवर्ती अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें ऋषिकेश स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भेजा गया है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि क्षेत्री और ओवेस के बीच पहले भी लड़ाई हो चुकी थी और क्षेत्री के ड्यूटी पर नहीं पहुंचने पर ओवेस ने उसकी अनुपस्थिति लगा दी थी जिससे नाराज होकर उसने प्रबंधक पर कथित रूप से पेट्रोल डालकर आग लगा दी. देहरादून का रहने वाला क्षेत्री जम्मू-कश्मीर राइफल से सेवानिवृत्त है और पिछले दो साल से बैंक में सुरक्षा गार्ड का काम कर रहा था.

अटेंप्ट टू मर्डर का मामला दर्ज

सिक्योरिटी गार्ड दीपक छेत्री को बैंक मैनेजर की कोशिश के मामले में गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के लिए बता दें कल सुबह करीब 10 बजे बैंक खुला था और ग्राहक भी बैंक में आने शुरू हो गए थे. गार्ड दीपक उस समय ड्यूटी पर मौजूद नहीं था. गार्ड दीपक ने पहले से बैंक मैनेजर के केबिन में पेट्रोल की बोतल छिपा दी थी. पुलिस ने इस पूरे मामले को वेल प्लांड कॉन्सपिरेसी करार दिया है. धारचूला के SHO कुंवर सिंह राणा ने मामले पर बात करते हुए बताया कि दीपक बैंक में आया और बैंक मैनेजर के केबिन में जाकर छुट्टी को लेकर गरमागरम बहस शुरू कर दी. बहस बढ़ने के बाद दीपक ने मैनेजर पर पेट्रोल छिड़का और माचिस से आग जला दी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.