यूपी में खेला? अखिलेश ने कांग्रेस को 11 सीटें देने का किया ऐलान, जयराम रमेश बोले- हमने घोषणा की ही नहीं

6

कांग्रेस की अगुआई में विपक्षी पार्टियों के बीच बनी I.N.D.I.A गठबंधन पूरी तरह से टूट के कगार पर है. बंगाल और पंजाब में झटका लगने के बाद बिहार में भी गाड़ी फंस चुकी है. इधर उत्तर प्रदेश में भी समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच सीट बंटवारे पर खेला होने की आशंका बढ़ गई है. हालांकि सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक्स पर पोस्ट कर कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में 11 सीटें देने का ऐलान कर दिया. लेकिन कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि अभी उसकी ओर से कोई भी घोषणा नहीं की गई है.

अखिलेश यादव के ट्वीट में क्या है खास

समाजवादी पार्टी (सपा) ने लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन की शनिवार को औपचारिक घोषणा कर दी और सीट बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने शनिवार को सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर गठबंधन की घोषणा की. यादव ने पोस्ट में कहा, कांग्रेस के साथ 11 मजबूत सीट से हमारे सौहार्दपूर्ण गठबंधन की अच्छी शुरुआत हो रही है…ये सिलसिला जीत के समीकरण के साथ और भी आगे बढ़ेगा. इसी पोस्‍ट में उन्‍होंने कहा कि ‘इंडिया’ की टीम और ‘पीडीए’ की रणनीति इतिहास बदल देगी.

जयराम रमेश बोले- हमने तो अभी घोषणा ही नहीं की

कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि लोकसभा चुनावों के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ सीट बंटवारे पर सकारात्मक और रचनात्मक बातचीत जारी है. इस संबंध में फार्मूले पर फैसला होने के बाद जानकारी दी जाएगी. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने यह भी कहा कि राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस की राष्ट्रीय गठबंधन समिति के सदस्य अशोक गहलोत सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ सीधे संपर्क में हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सीट बंटवारे पर जो समझौता होगा वह कांग्रेस, सपा और ‘इंडिया’ गठबंधन के लिए फायदेमंद होगा.

यूपी में लोकसभा की कुल 80 सीटें

उप्र में लोकसभा की कुल 80 सीटें हैं और 2019 के चुनाव में सपा, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा को पांच, बसपा को 10 सीट पर जीत मिली थी, जबकि रालोद अपना खाता भी नहीं खोल पाया था.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.