Union Cabinet: मोदी सरकार ने देश में 3 सेमीकंडक्टर संयंत्र लगाने को मंजूरी दी

8

Ashwini Vaishnaw 1

Union Cabinet: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्र सरकार ने गुरुवार को देश में तीन सेमीकंडक्टर संयंत्र लगाने को मंजूरी दे दी है. इनका निर्माण अगले 100 दिनों में शुरू होगा. टाटा इलेक्ट्रॉनिक्स प्राइवेट गुजरात में ताइवान की पावरचिप सेमीकंडक्टर मैन्यूफैक्चरिंग कॉर्प के साथ मिलकर एक सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र लगाएगी. टाटा सेमीकंडक्टर एसेंबली एंड टेस्ट प्राइवेट लि असम के मोरीगांव में 27,000 करोड़ रुपये के निवेश से सेमीकंडक्टर संयंत्र लगाएगी. सीजी पावर जापान की रेनेसस इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्प और थाईलैंड की स्टार्स माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक्स के साथ मिलकर गुजरात में एक सेमीकंडक्टर संयंत्र लगाएगी.

Union Cabinet: अश्विनी वैष्णव ने सेमीकंडक्टर फैब की स्थापना को मंजूरी देने को बताया ऐतिहासिक

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया, आज प्रधानमंत्री ने देश में सेमीकंडक्टर फैब स्थापित करने का एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है. सेमीकंडक्टर फैब का अप्रूवल देश के लिए बहुत बड़ा निर्णायक मोड़ है और आत्मनिर्भर भारत बनाने का जो संकल्प लिया प्रधानमंत्री मोदी जी ने उसकी सबसे बड़ी सिद्धि है.

धोलेरा स्पेशल इंडस्ट्रियल रीजन के अंदर बनेगी पहली सेमीकंडक्टर फैब

केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया, पहला वाणिज्यिक सेमीकंडक्टर फैब टाटा और पावरचिप-ताइवान द्वारा स्थापित किया जाएगा, जिसका प्लांट धोलेरा में होगा. केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, तीनों इकाइयों का निर्माण अगले 100 दिनों के भीतर शुरू हो जाएगा. प्रति माह 50,000 वेफर का निर्माण किया जाएगा. इस सुविधा के माध्यम से सालाना 300 करोड़ चिप्स का निर्माण किया जाएगा. पूर्वोत्तर को अपनी पहली सेमीकंडक्टर इकाई असम में मिलेगी. यहां से प्रति दिन 48 मिलियन चिप्स का निर्माण किया जाएगा. तीनों इकाइयों में संचयी निवेश एक लाख छब्बीस हजार करोड़ होगा. ब्रेकडाउन यह है कि एफएबी में निवेश 91,000 करोड़ होगा. असम इकाई में निवेश 27,000 करोड़ होगा. निवेश साणंद इकाई में 7,600 करोड़ रुपये लगेंगे.

Also Read: मोदी सरकार ने बिग कैट एलायंस की स्थापना को मंजूरी दी, किसानों के लिए बड़ी घोषणा

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.