Union Bank के बोर्ड की अहम बैठक 25 नवंबर को, फंड इकट्ठा करने की योजना पर ली जाएगी शेयरधारकों की मंजूरी

0 90


यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के निदेशक मंडल की 25 नवंबर को एक अहम बैठक होगी। इस बैठक में विभिन्न माध्यमों धन जुटाने के लिए शेयरधारकों की संस्तुति ली जाएगी। बैंक ने रविवार को शेयर बाजारों को बताया कि बैंक का लक्ष्य पब्लिक ऑफर, राइट्स इश्यू, क्वालिफाइड इंस्टीच्युशन्स प्लेसमेंट सहित प्राइवेट प्लेसमेंट, भारत सरकार को प्रेफरेंशियल अलॉटमेंट और अन्य माध्यम या विभिन्न माध्यमों से धन जुटाने का है। यह नियामकीय मंजूरी पर निर्भर करता है।

प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर के विभिन्न बैंकों ने धन जुटाने की योजना बनायी है या योजना बना रहे हैं। इसका लक्ष्य महामारी के इस समय में उनके बफर को मजबूती देना है।

NSE पर बैंक के शेयर की कीमत सोमवार को दोपहर 01:08 बजे 0.050 पैसे की कमी के साथ 25.50 रुपये पर ट्रेंड कर रही थी।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने बीएसई को बताया है, ”कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की 25 नवंबर को एक बैठक होने वाली है। इस बैठक में पब्लिक ऑफर (फॉलो ऑन पब्लिक ऑफर) और/ या राइट्स इश्यू और/ या प्राइवेट प्लेसमेंट और/ या भारत सरकार को तरजीही आवंटन और/ या अन्य संस्थान या किसी अन्य माध्यम से इक्विटी कैपिटल जुटाने के प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा और मंजूरी दी जाएगी। यह भारत सरकार और अन्य नियामकीय मंजूरी पर निर्भर करता है।”


इससे पहले जून में बैंक के बोर्ड ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 10,300 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने की योजना को अपनी मंजूरी दे दी थी। इस योजना के तहत बैंक का लक्ष्य पब्लिक इश्यू, राइट्स इश्यू या प्राइवेट प्लेसमेंट के जरिए 6,800 करोड़ रुपये जुटाने की है। बैंक की योजना अतिरिक्त टीयर-1 या टीयर टू बॉन्ड के जरिए 9,400 करोड़ रुपये जुटाने की है।

अप्रैल, 2020 में आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का यूनियन बैंक में विलय हुआ था। इसके बाद यूनियन बैंक की बफर पूंजी में कमी दर्ज की गई।