Unemployment in India: भारत के पहाड़ों में सबसे ज्यादा युवा बेरोजगार, गुजरात में सबसे ज्यादा नौकरी

29
un4
Unemployment in India

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 15 से 29 वर्ष के उम्र समूह के बीच हिमाचल प्रदेश शहरी इलाकों में 33.9 प्रतिशत बेरोजगारी दर के साथ सबसे आगे रहा जबकि 30.2 प्रतिशत बेरोजगारी के साथ राजस्थान दूसरे स्थान पर रहा. एनएसएसओ ने अप्रैल, 2017 में पहला तिमाही आधार पर श्रमबल सर्वेक्षण किया था. इसे हर तिमाही जारी किया जाता है.

Unemployment in India

राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (एनएसएसओ) के जुलाई-सितंबर, 2023 तिमाही के लिए श्रमबल सर्वेक्षण (पीएलएफएस) आंकड़ों से यह तथ्य सामने आया है. इससे यह भी पता चला है कि शहरी क्षेत्रों में 15-29 आयु वर्ग की महिलाओं में बेरोजगारी दर बीती तिमाही में हिमाचल प्रदेश में 49.2 प्रतिशत के साथ सर्वाधिक रही जबकि पुरुषों की बेरोजगारी दर 25.3 प्रतिशत थी.

un2
Unemployment in India

राजस्थान के मामले में इस तिमाही में शहरों में महिलाओं में बेरोजगारी दर 39.4 प्रतिशत थी, जबकि पुरुषों में यह 27.2 प्रतिशत थी. श्रम बल में बेरोजगार लोगों के प्रतिशत के रूप में बेरोजगारी दर को परिभाषित किया जाता है.

Unemployment in India

जम्मू-कश्मीर में भी शहरी इलाकों में इस आयु वर्ग में बेरोजगारी की उच्च दर 29.8 प्रतिशत दर्ज की गई. इस तिमाही के दौरान महिलाओं में बेरोजगारी 51.8 प्रतिशत थी जबकि पुरुषों में बेरोजगारी दर 19.8 प्रतिशत थी. आंकड़ों से पता चलता है कि वर्तमान साप्ताहिक स्थिति के अनुसार देश में शहरों में 15-29 आयु वर्ग में कुल बेरोजगारी 17.3 प्रतिशत थी. सर्वेक्षण से पहले के सात दिनों में गतिविधि की स्थिति को वर्तमान साप्ताहिक स्थिति (सीडब्ल्यूएस) कहा जाता है.

Unemployment rate in Jharkhand
Unemployment

आंकड़ों से पता चलता है कि जुलाई-सितंबर तिमाही 2023 में देश के शहरों में 15-29 आयु वर्ग में कुल बेरोजगारी 22.9 प्रतिशत थी, जबकि महिलाओं में यह 15.5 प्रतिशत थी. देश के 22 राज्यों में किए गए सर्वेक्षण के मुताबिक, आलोच्य तिमाही में 15-29 प्रतिशत आयु वर्ग के युवाओं में सबसे कम बेरोजगारी दर गुजरात में 7.1 प्रतिशत थी और उसके बाद दिल्ली में यह 8.4 प्रतिशत थी.

Unemployment Rate

बेरोज़गारी किसी काम करने के लिए योग्य व उपलब्ध व्यक्ति की वह अवस्था होती है जिसमें उसकी न तो किसी कम्पनी या संस्थान के साथ और न ही अपने ही किसी व्यवसाय में नियुक्ति होती है. किसी देश, राज्य या अन्य क्षेत्र में पूरे श्रम करने वाले लोगों की आबादी में बेरोज़गारों का प्रतिशत उस स्थान का बेरोज़गारी दर कहलाता है.

(भाषा इनपुट)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.