Twinkle Khanna ने किया क्रिस्टोफर नोलन का वीडियो इंटरव्यू, जानें- अक्षय कुमार क्यों हो गये दुखी 

0 64

प्रख्यात हॉलीवुड निर्देशक क्रिस्टोफर नोलन की फ़िल्म टेनेट से डिम्पल कपाड़िया ने अंतरराष्ट्रीय सिनेमा में अपनी पारी शुरू की है। टेनेट में डिम्पल के किरदार और नोलन के साथ उनके एसोसिएशन को उनका परिवार ख़ूब सेलिब्रेट कर रहा है। इसी क्रम में ट्विंकल खन्ना ने क्रिस्टोफर नोलन का इंटरव्यू लिया, जिसे अक्षय कुमार ने सोशल मीडिया में शेयर किया। इस इंटरव्यू में ट्विंकल ने क्रिस्टोफर की फ़िल्मों और टेनेट से डिम्पल के जुड़ने को लेकर बातचीत की।

अक्षय ने इस वीडियो के साथ लिखा- पहले मेरी सास ने क्रिस्टोफर नोलन के साथ काम किया और अब मेरी बीवी ने इंटरव्यू किया है। इस परिवार में मैं ही बचा हूं, जो इस विजुअल जीनियस से नहीं मिला है। आप यह इंटरव्यू देखिए, तब तक मैं दुख मनाता हूं।

First my mom-in-law worked with #ChristopherNolan and now the wife gets to interview him…seems like I’m the only one left in the family yet to meet the visual genius! Watch this interview while I sulk 😞

( पहले मेरे सास-ससुर ने #ChristopherNolan के साथ काम किया और अब पत्नी को उनका इंटरव्यू लेने का मन हो रहा है … ऐसा लगता है कि मैं परिवार में केवल एक ही व्यक्ति हूँ जो अभी भी दृश्य प्रतिभा से मिलता है! इस साक्षात्कार को देखने के दौरान मैंने व्यंग्य किया 😞 )

— Akshay Kumar (@akshaykumar) December 10, 2020
इंटरव्यू में ट्विंकल क्रिस्टोफर से पूछती हैं कि क्या यह सच है कि डिम्पल ऑडिशन के समय नर्वस थीं और उन्होंने किसी दूसरी एक्ट्रेस का नाम रिकमेड कर दिया था? इस पर नोलन बताते हैं कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ। बैटमैन बिगिंस के लिए वो लियाम नीसम से मिले थे। उन्होंने भी किरदार सुनकर मना किया और किसी और का नाम रिकमेंट कर दिया। नोलन ने कहा कि यह नर्वसनेस विनम्रता की निशानी है। क्रिस्टोफर ने बताया कि मुंबई शहर ने उन्हें काफ़ी प्रभावित किया। डिम्पल और हमने वही क्रिएट किया है।

टेनेट भारत में 4 दिसम्बर को सिनेमाघरों में रिलीज़ हो चुकी है और फ़िल्म को अच्छी शुरुआत मिली। फ़िल्म ने ओपनिंग वीकेंड में लगभग 5 करोड़ का कलेक्शन किया था। 1100 से अधिक स्क्रींस पर उतारी गयी फ़िल्म ने 1-2 करोड़ की ओपनिंग ली थी, जो ठीकठाक है। बता दें कि 15 अक्टूबर से सिनेमाघर खोल दिये गये हैं, मगर 50 फीसदी दर्शकों के साथ ही खोला गया है, जिसका मतलब है कि सिनेमाघरों में सीटों की संख्या आधी कर दी गयी है। टेनेट के कलेक्शंस से फ़िल्म उद्योग को सकारात्मक संकेत मिले हैं।