Air India: टाटा समूह के एयर इंडिया ने गिफ्ट सिटी के जरिए पहले ए350 विमान का किया अधिग्रहण, जानें क्यों है खास

7

Air India: टाटा समूह के स्वामित्व वाले एयर इंडिया को शुक्रवार को बड़ी कामयाबी मिली है. एयरलाइंस ने गिफ्ट सिटी के माध्यम से पहले ए350-900 विमान का अधिग्रहण पूरा कर लिया है. कंपनी ने इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि एचएसबीसी के साथ वित्त पट्टा लेनदेन के माध्यम से अधिग्रहण का काम पूरा किया गया है. बता दें कि कंपनी ने हाल ही में 470 विमानों का सौदा किया था. एयर इंडिया का ये विमान देश का पहला ‘वाइड बॉडी’ विमान है, जिसे अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (आईएफएससी) गिफ्ट सिटी के जरिए पट्टे पर लिया गया है. एयरइंडिया के मुख्य वाणिज्यिक एवं परिवर्तन अधिकारी निपुण अग्रवाल ने कहा कि यह महत्वपूर्ण लेन-देन गिफ्ट आईएफएससी से हमारे विमान पट्टे के व्यवसाय की शुरुआत का प्रतीक है. एआईएफएस विस्तृत निकाय विमान वित्तपोषण के लिए एयरइंडिया समूह की पहली इकाई होगी, जो हमारे और हमारी अनुषंगी कंपनियों के लिए भविष्य की विमान वित्तपोषण रणनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी.

एयर इंडिया के बेड़े में है 116 विमान

अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) के कार्यकारी निदेशक दीपेश शाह ने कहा कि वह विमान पट्टे और वित्तपोषण के लिए विनियामक क्षमता विकसित करने के लिए हितधारकों के साथ काम कर रहा है. एयर इंडिया ने इस साल जून में एयरबस और बोइंग के साथ इन विमानों के अधिग्रहण के लिए खरीद समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. अभी एयर इंडिया के पास 116 विमानों का बेड़ा है, जिसमें 49 ‘वाइड बॉडी’ विमान शामिल हैं. वहीं, टाटा समूह अपने एयरलाइन व्यवसाय को मजबूत करने की प्रक्रिया में है, जिसके तहत एआईएक्स कनेक्ट का एयरइंडिया एक्सप्रेस के साथ विलय हो रहा है और विस्तारा का एयरइंडिया के साथ विलय किया जाएगा. विस्तारा टाटा और सिंगापुर एयरलाइन का एक संयुक्त उद्यम है. सिंगापुर एयरलाइन की वाहक में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

20 जून को कंपनी ने किया था सौदा

एयर इंडिया ने 20 जून को एयरबस और बोइंग से सूचीबद्ध मूल्य पर करीब 70 अरब डॉलर में 470 विमानों की खरीद के करार पर हस्ताक्षर किया था. टाटा समूह के स्वामित्व वाली एयरलाइन ने इस साल फरवरी में कहा था कि वह बड़े आकार वाले विमानों सहित कुल 470 विमान इन दोनों विमान विनिर्माताओं से खरीदेगी. एयरलाइन ने बयान में बताया था कि इस पक्के ऑर्डर में 34 ए350-1,000, छह ए350-900, 20 बोइंग 787 ड्रीमलाइनर और 10 बोइंग 777 एक्स बड़े विमानों के अलावा 140 एयरबस ए320 नियो, 70 एयरबस ए321 नियो और 190 बोइंग 737 मैक्स छोटे आकार के विमान शामिल हैं. इस खरीद करार पर पेरिस एयर शो से इतर हस्ताक्षर किए गया था. एयर इंडिया ने बताया था कि करार उसके द्वारा फरवरी में घोषित 70 अरब डॉलर के बेड़ा विस्तार कार्यक्रम का अगला कदम है. एयर इंडिया को सौदे के बाद इसी साल से एयरबस ए350 के साथ नए विमानों की आपूर्ति शुरू होनी थी. कंपनी ने बताया है कि एयर इंडिया को ज्यादातर विमान 2025 के मध्य से मिलने शुरू होंगे. टाटा संस और एयर इंडिया के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि इस ऐतिहासिक कदम से दीर्घावधि की वृद्धि और सफलता की दिशा में एयर इंडिया की स्थिति और मजबूत हुई है. हमें पूरी उम्मीद है कि हम एक साथ आकर दुनिया के समक्ष आधुनिक विमानन का प्रतिनिधित्व करेंगे.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.