‘मेरे सलाह को सरकार ने नजरअंदाज किया’, विधानसभा में बोले तमिलनाडु के राज्यपाल रवि, जानें मामला

6

Tamil Nadu Governor In Vidhansabha : तमिलनाडु के राज्यपाल रवींद्र नारायण रवि ने सोमवार को विधानसभा में बड़ा बयान दिया है. उन्होंने विधानसभा में कहा है कि उन्होंने राष्ट्रगान के प्रति सम्मान दिखाने के लिए एक अनुरोध किया था कि अभिभाषण की शुरुआत और अंत में राष्ट्रगान बजाया जाए. लेकिन, राज्य सरकार ने उनके इस सलाह को कथित तौर पर नजरअंदाज किया है. राज्यपाल रवि ने यह भी कहा है कि इस अभिभाषण में कई ऐसे संदेश हैं जिनसे मैं पूरी तरह असहमत हूं.

सरकार द्वारा तैयार अभिभाषण से वह असहमत

अपने कड़े रुख को बनाए रखते हुए तमिलनाडु के राज्यपाल रवि ने तथ्यात्मक और नैतिक आधार पर विधानसभा में पारंपरिक अभिभाषण से असहमति जतायी है. तमिलनाडु के राज्यपाल ने विधानसभा में कहा कि जिस अभिभाषण से वह असहमत हैं, उसे अपनी आवाज देना संविधान का मजाक होगा. तमिलनाडु के राज्यपाल रवि ने विधानसभा में अभिभाषण शुरू करने के तुरंत बाद यह कहते हुए उसका समापन किया कि वह सरकार द्वारा तैयार अभिभाषण से वह असहमत हैं.

विधानसभा में उनका संबोधन

तमिलनाडु विधानसभा सत्र में, राज्यपाल आरएन रवि कहते हैं, “राष्ट्रगान के प्रति उचित सम्मान दिखाने और इसे संबोधन की शुरुआत और अंत में बजाने के मेरे बार-बार अनुरोध और सलाह को नजरअंदाज कर दिया गया है. इस संबोधन में कई अंश हैं जिनके साथ मैं आश्वस्त हूं तथ्यात्मक और नैतिक आधार पर असहमत हूं. मेरा उन्हें अपनी आवाज देना एक संवैधानिक उपहास होगा. इसलिए, सदन के संबंध में, मैं अपना संबोधन समाप्त करता हूं. कामना करता हूं कि यह सदन लोगों की भलाई के लिए एक सार्थक और स्वस्थ चर्चा हो…”

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.