Suzlon Energy: सुजलॉन को मिला एबीसी क्लीनटेक से 642 मेगावाट की पवन ऊर्जा का ठेका, उड़ने लगा शेयर का भाव

6

Suzlon Energy Share Price: सुजलॉन एनर्जी लिमिटेड के शेयर ने पिछले एक साल में निवेशकों को झोली भरकर रिटर्न दिया है. केवल 44 रुपये शेयर प्राइस का ये शेयर साल 2023 में बेस्ट मल्टीबैगर स्टॉक में शामिल हुआ है. आज सुजलॉन समूह को एवरेन कंपनी, एबीसी क्लीनटेक प्राइवेट लिमिटेड (एसीपीएल) से 642 मेगावाट की पवन ऊर्जा परियोजना का ठेका मिला है. एवरेन भारत में ब्रुकफील्ड और एक्सिस एनर्जी के बीच एक संयुक्त उद्यम है. कंपनी की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, ठेके के तहत सुजलॉन आंध्र प्रदेश में हाइब्रिड लैटिस ट्यूबलर (एचएलटी) टावर और 214 पवन टरबाइन जनरेटर (डब्ल्यूटीजी) स्थापित करेगा. एक्सेंच में इस बार की सूचना मिलने बाद कंपनी के शेयर में तूफानी तेजी देखने को मिली. दोपहर 12.15 बजे कंपनी के शेयर 3.12 प्रतिशत यानी 1.35 रुपये की तेजी के साथ 44.60 रुपये पर पहुंच गया. इससे पहले सुबह 9 बजे कंपनी के शेयर 43.50 रुपये पर खुला था जो कंट्रैक्ट की सूचना आने से पहले 9.30 बजे गिरकर 42.75 रुपये पर कारोबार कर रहा था.

suzlon
Suzlon Energy Share Price

एक साल में कंपनी ने दिया 397 प्रतिशत रिटर्न

सुजलॉन एनर्जी लिमिटेड के शेयर ने एक साल में निवेशकों को 397.77 प्रतिशत यानी 35.60 रुपये का रिटर्न दिया है. 30 जनवरी 2023 को कंपनी के शेयर का भाव 8.95 पैसे था. जो मई 2023 से लगातार बढ़ता जा रहा है. वहीं, केवल छह महीने में कंपनी के शेयर ने निवेशकों को 135.36 प्रतिशत यानी 25.65 रुपये का रिटर्न दिया है. सुजलॉन समूह के वाइस चेयरमैन गिरीश तांती ने एक बयान में कहा कि सुजलॉन भारत के नवीकरणीय ऊर्जा लक्ष्यों के तहत हरित ऊर्जा खंड को बढ़ाने के लिए एवरेन के साथ साझेदारी को प्रतिबद्ध हैं. चूंकि भारत की नवीकरणीय ऊर्जा महत्वाकांक्षा दुनिया भर में मानक स्थापित करती है, हम अपने नवीकरणीय ऊर्जा लक्ष्यों को आगे बढ़ाने के लिए मूल्य श्रृंखला में कंपनियों के साथ साझेदारी करके सम्मानित महसूस कर रहे हैं. भारत में सबसे अनुकूल नीति वातावरण और अनुसंधान एवं विकास और विनिर्माण से लेकर संचालन और रखरखाव सेवाओं तक संपन्न तंत्र है. दुनिया में ऊर्जा की सबसे कम लागत में से एक के साथ मिलकर, ये कारक भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा को वैश्विक बाजार में खड़ा करते हैं. समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे.पी. चालासानी ने कहा कि हमें एवरेन के साथ अपने पहले ठेके की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है.

जनवरी में भी मिला था बड़ा ठेका

इससे पहले कंपनी को जनवरी में भी एवररेन्यू एनर्जी से 225 मेगावाट पवन ऊर्जा का ठेका मिला था. कंपनी ने बताया था कि तमिलनाडु में त्रिची जिले के वेंगईमंडलम और तूतिकोरिन जिले के ओट्टापिडारम में एवररेन्यू एनर्जी की साइट पर हाइब्रिड लैटिस ट्यूबलर (एचएलटी) टावर और 75 पवन टरबाइन जनरेटर (डब्ल्यूटीजी) स्थापित करेगा. प्रत्येक की रेटेड क्षमता तीन मेगावाट है.

(भाषा इनपुट के साथ)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.