Stock Market: शेयर बाजार में गिरावट का तीसरा दिन, सेंसेक्स 542.10 अंक टूट कर बंद, निवेशकों के करोड़ों डूबे

8

Stock Market: शेयर बाजार में लगातार तीसरे दिन गिरावट से बाजार मायूस रहा. बीएसई सेंसेक्स 542 अंक टूटकर बंद हुआ. वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख तथा विदेशी संस्थागत निवेशकों की पूंजी निकासी जारी रहने से बाजार में गिरावट बनी रही. आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक जैसे शेयरों में नुकसान से बाजार की धारणा प्रभावित हुई. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 542.10 अंक यानी 0.82 प्रतिशत की गिरावट के साथ 65,240.68 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 819.7 अंक तक नीचे चला गया था. वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 144.90 अंक यानी 0.74 प्रतिशत की गिरावट के साथ 19,381.65 अंक पर बंद हुआ. बताया जा रहा है कि आज भी निवेशकों को करोड़ों रुपये बाजार में डूब गए.

एनटीपीसी और पावरग्रिड लाभ में रहें

सेंसेक्स के शेयरों में टाइटन दो प्रतिशत से अधिक नीचे आया. कंपनी ने बुधवार को कहा कि उसका एकीकृत शुद्ध लाभ जून तिमाही में 4.3 प्रतिशत घटकर 756 करोड़ रुपये रहा है. उसके बाद कंपनी का शेयर नीचे आया है. इसके अलावा बजाज फिनसर्व, आईसीआईसीआई बैंक, नेस्ले, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज फाइनेंस, मारुति, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंडसइंड बैंक और भारतीय स्टेट बैंक प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. दूसरी तरफ इन्फोसिस, जेएसडब्ल्यू स्टील, एनटीपीसी और पावरग्रिड लाभ में रहें. एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में जबकि चीन का शंघाई कम्पोजिट लाभ में रहा. यूरोपीय बाजार शुरुआती कारोबार में नुकसान में रहा. फिच रेटिंग्स के अमेरिकी सरकार की साख कम किये जाने के बाद अमेरिकी बाजार बुधवार को नुकसान में रहा था.

शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 1,877.84 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 82.82 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया. बीएसई सेंसेक्स बुधवार को 676.53 अंक यानी 1.02 प्रतिशत टूटकर 65,782.78 अंक और निफ्टी 207 अंक यानी 1.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 19,526.55 अंक पर बंद हुआ था.

(इनपुट-भाषा)

रुपया छह पैसे टूटकर 82.73 प्रति डॉलर पर

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया बृहस्पतिवार को छह पैसे की गिरावट के साथ 82.73 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर बंद हुआ. विदेशी बाजारों में डॉलर की मजबूती और स्थानीय शेयर बाजार के कमजोर रुख के बीच रुपये की धारणा प्रभावित हुई. विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने बताया कि विदेशी संस्थागत निवेशकों के बाजार से पैसे निकालने और कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से भी रुपये पर दबाव बड़ा. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 82.71 पर खुला. दिन में कारोबार के दौरान यह 82.66 के उच्चस्तर तक गया तथा 82.81 के निचले स्तर तक आया. अंत में यह अपने पिछले बंद भाव से छह पैसे गिरकर 82.73 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर बंद हुआ. पिछले कारोबारी सत्र में रुपया डॉलर के मुकाबले 82.67 पर बंद हुआ था. इस बीच, छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.13 प्रतिशत बढ़कर 102.68 रहा. वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.23 प्रतिशत गिरकर 83.01 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर रहा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.