Share Market: भारतीय स्टॉक मार्केट की दमदार शुरूआत, हांगकांग को पछाड़ बना दुनिया का चौथा सबसे बड़ा शेयर बाजार

12

Share Market Opening: सप्ताह के पहले कारोबारी दिन ग्लोबल मार्केट से मिल रहे मजबूत संकेतों के बीच, भारतीय शेयर बाजार की मंगलवार को तूफानी शुरूआत हुई. सेंसेक्स 0.69 प्रतिशत यानी 494.41 चढ़कर 71,918.06 पर कारोबार कर रहा था. जबकि, निफ्टी 0.66 प्रतिशत यानी 143.40 अंक चढ़कर 21,715.20 पर कारोबार कर रहा था. ज्यादातर इंडेक्स हरे के निशान में कारोबार कर रहे हैं. निफ्टी पर Cipla, ICICI Bank, Power Grid Corporation, Apollo Hospitals और NTPC टॉप गेनर शेयरों में शामिल हुए हैं. जबकि, Asian Paints, Bajaj Auto, HDFC Bank, Grasim Industreis और LTIMindtree आज के टॉप लूजर शेयर हैं. इस बीच, खबर आ रही है कि भारतीय शेयर बाजार ने लंबी छलांग मारी है. शेयर मार्केट ने हांगकांग के बाजार को पिछले छोड़ते हुए दुनिया में अपना चौथा स्थान बना लिया है. आज बाजार की तेजी के बीच भारत का बाजार पूंजीकरण हांगकांग के 4.29 ट्रिलियन डॉलर के मुकाबले 4.33 ट्रिलियन डॉलर हो गया है. एक्सपर्ट की माने तो 2024 में वैश्विक केंद्रीय बैंकों द्वारा अपेक्षित दर में कटौती से निवेशकों का विश्वास बढ़ सकता है, जिससे भारतीय बाजार में तेजी देखने को मिल रही है. निवेशक अब 1 फरवरी को बजट घोषणा की उम्मीद कर रहे हैं.

सेंसेक्स के 26 शेयरों में दिखा उछाल

बाजार के तेजी के बीच सेंसेक्स के 30 में से 26 शेयरों में उछाल देखा जा रहा है. जबकि, चार शेयर अभी भी लाल निशान के साथ कारोबार कर रहे हैं. तिमाही के परिणाम से प्रभावित होकर आईसीआईसीआई बैंक के शेयर में 3.21 प्रतिशत की तेजी आयी है. आज सेंसेक्स पर ये टॉप गेनर में शामिल है. जबकि, भारती एयरटेल के शेयर में 2.44 फीसदी, पावरग्रिड में 2.32 फीसदी और बजाज फिनसर्व 1.80 फीसदी का उछाल देखने को मिला है. सेंसेक्स के गिरने वाले स्टॉक्स में आज एशियन पेंट्स 1.79 फीसदी नीचे है. एचडीएफसी की स्थिति आज भी कमजोर बनी हुई है. बैंक के शेयर का भाव 0.97 प्रतिशत गिरा हुआ है.

आज इन कंपनियों के जारी होंगे नतीजे

एक्सिस बैंक, सीजी पावर, साइएंट डीएलएम, ग्रैन्यूल्स इंडिया, हैवेल्स इंडिया, आईसीआरए, इंडस टावर्स, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, कर्नाटक बैंक, एलएंडटी हाउसिंग फाइनेंस, लॉयड्स इंजीनियरिंग, पूर्वांकरा, रैलिस इंडिया, आरईसीएल, टानला प्लेटफॉर्म, टाटा एलेक्सी और यूनाइटेड स्पिरिट्स कुछ प्रमुख कंपनियां हैं जो मंगलवार को दिसंबर तिमाही के नतीजों की घोषणा करने वाली हैं.

चीन की मंदी का हांगकांग के बाजार पर पड़ा असर

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, बाजार के जानकारों का कहना है कि हांगकांग की मंदी चीन की घटती अपील के कारण भी है. चीन की कुछ सबसे प्रभावशाली और नवोन्वेषी कंपनियां हांगकांग में सूचीबद्ध हैं. बीजिंग के कड़े कोविड-19 प्रतिबंध, निगमों पर नियामक कार्रवाई, संपत्ति-क्षेत्र संकट और पश्चिम के साथ भू-राजनीतिक तनाव ने चीनी शेयरों को बुरी तरह प्रभावित किया है. 2021 में अपने शिखर के बाद से चीनी और हांगकांग शेयरों का कुल बाजार मूल्य 6 ट्रिलियन डॉलर से अधिक गिर गया है. हांगकांग में नई लिस्टिंग सूख गई है, एशियाई वित्तीय केंद्र प्रारंभिक जनता के लिए दुनिया के सबसे व्यस्त स्थानों में से एक के रूप में अपनी स्थिति खो रहा है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.