Pradeep Sardana: फिल्म समीक्षक रत्नश्री पुरस्कार से सम्मानित

5

abhishek 2 3

Pradeep Sardana: वरिष्ठ पत्रकार, स्तंभकार, लेखक, कवि और जाने माने फिल्म समीक्षक प्रदीप सरदाना को ‘रत्नश्री पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया. राजधानी में आयोजित एक भव्य समारोह में सरदाना को यह सम्मान ‘राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय’ के पूर्व निदेशक और वर्तमान में ‘गीता शोध संस्थान एवं रासलीला अकादमी’ के निदेशक दिनेश खन्ना ने प्रदान किया. उनको यह सम्मान लेखन, पत्रकारिता, काव्य, कला एवं फिल्म क्षेत्र में किए गए उनके असाधारण कार्यों के लिए दिया गया है.

प्रदीप सरदाना ‘रत्नश्री पुरस्कार’ से सम्मानित
दिनेश खन्ना ने इस मौके पर कहा, प्रदीप सरदाना जी विगत 45 से अधिक वर्षों से पत्रकारिता, साहित्य और कला संस्कृति के साथ फिल्म समीक्षक और फिल्म इतिहासकार के रूप में जो कार्य कर रहे हैं, वह अत्यंत सराहनीय है. राजनीति, साहित्य, सिनेमा,कला संस्कृति और सामाजिक और सामायिक विषयों पर उनका लेखन अद्भभुत है.

13 साल की उम्र से कर रहे हैं काम
अब तक अनेक पुरस्कारों से पुरस्कृत प्रदीप सरदाना देश के सबसे कम उम्र के संपादक और देश में टेलीविजन पत्रकारिता के जनक भी हैं. साथ ही देश के 5 बड़े राष्ट्रीय न्यूज चैनल पर 4 दिन में 52 घंटे लाइव रहने का अनूठा रिकॉर्ड भी उनके नाम दर्ज है. प्रदीप सरदाना एक अनुभवी पत्रकार और फिल्म, टीवी समीक्षक हैं. महज 13 साल की उम्र में पत्रकारिता के क्षेत्र में प्रवेश किया. भारत में टीवी पर पत्रकारिता में सबसे कम उम्र के संपादक और अग्रणी हैं. प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया के साथ 40 वर्षों से अधिक समय से काम कर रहे हैं.

Also Read- Pankaj Udhas Funeral: पंचतत्व में विलीन हुए गजल गायक पंकज उधास, अंतिम दर्शन में पहुंचे कई कलाकार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.