SBI ने फ्लाईवायर के साथ किया समझौता, विदेश में पढ़ने वाले भारतीय छात्रों को मिलेगी ये बड़ी सुविधा

8

SBI ties up with Flywire: देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने फ्लाईवायर कॉर्पोरेशन के साथ बड़ी साझेदारी की है. इसका सीधा लाभ भारतीय छात्रों के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शैक्षिक पाठ्यक्रों के लिए पेमेंट सिस्टम को बेहतर बनाने की दिशा में होगा. स्टेट बैंक ने बताया कि इस पार्टनरशीप का उद्देश्य पारंपरिक रूप से जटिल प्रक्रिया को सुव्यवस्थित, उपयोगकर्ता के अनुकूल बनाना और एक निर्बाध और पूरी तरह से डिजिटल भुगतान अनुभव प्रदान करना है. यह साझेदारी फ्लाईवायर तकनीक को सीधे बैंक के प्लेटफॉर्म के साथ जोड़ती है, जिससे भारतीय छात्रों को उनके अंतरराष्ट्रीय शैक्षिक भुगतान के लिए एक उन्नत डिजिटल चेकआउट अनुभव मिलता है. आवेदन से लेकर ट्यूशन फीस तक, छात्र एसबीआई के नेट बैंकिंग प्लेटफॉर्म पर तीन सरल चरणों के भीतर भारतीय रुपये में आसानी से लेनदेन पूरा कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त, संस्थानों को छात्रों के बारे में प्रासंगिक जानकारी स्वचालित रूप से हासिल हो जाएगी, जिससे सटीक और पहचान योग्य भुगतान सुनिश्चित किया जा सकेगा.

डिजिटल परिवर्तन की दिशा में एक कदम: SBI

यह साझेदारी डिजिटल परिवर्तन की दिशा में एक कदम है जो भारतीय रिज़र्व बैंक की लिबरलाज्ड रेमिटेंस स्कीम (LRS) दिशानिर्देशों के साथ बढ़ी हुई पारदर्शिता और अनुपालन सुनिश्चित करती है, जिससे भारतीय निवासियों के लिए विदेशी लेनदेन सरल हो जाता है. यह साझेदारी वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिहाज से भी एक महत्वपूर्ण कदम माना जा सकता है. भारतीय छात्र अंतरराष्ट्रीय शिक्षा के प्रमुख चालक हैं, और यह संख्या दोगुनी होने की ओर अग्रसर है, यह देखते हुए कि 2024 तक भारतीय आउटबाउंड छात्र आबादी 1.8 मिलियन छात्रों तक पहुंच जाएगी, जिससे 75 बिलियन यूएस डॉलर से 85 बिलियन यूएस डॉलर के बीच पर्याप्त खर्च का अनुमान लगाया जाएगा.

झट से पूरा होगा पेमेंट

एसबीआई का लक्ष्य कागज-आधारित भुगतान प्रक्रिया के लिए एक आधुनिक, कुशल समाधान प्रदान करने की दिशा में अग्रणी बनना है. एसबीआई ने कहा कि फ्लाईवायर के साथ साझेदारी करके और भारतीय छात्रों और एसबीआई के ग्राहकों को यह विशेष सॉल्यूशंस पेश करते हुए हमें खुशी हो रही है. फ्लाईवायर के साथ साझेदारी करके, हम अगली पीढ़ी के छात्रों को लाभ पहुंचाने के लिए अपने पेमेंट सॉल्यूशंस का विस्तार कर रहे हैं. फ्लाईवायर के एसवीपी-ग्लोबल पेमेंट्स मोहित कंसल ने कहा कि इस शक्तिशाली साझेदारी से अनेक दिनों में पूरी होने वाली एक बोझिल प्रक्रिया से छुटकारा मिल जाएगा, क्योंकि इस नई प्रक्रिया से कुछ ही चरणों में पेमेंट करना संभव हो जाएगा. हम जानते हैं कि हमारा देश एक रोमांचक डिजिटल क्रांति से गुजर रहा है, और हम इस बदलाव में सबसे आगे रहने के लिए उत्साहित हैं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.