Sahara Refund: सेबी ने सहारा निवेशकों के 138.07 करोड़ रुपये किए वापस, जानें रिफंड पोर्टल से कैसे मिलेगा पैसा

22

Sahara Refund: सहारा के निवेशकों को ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है. सरकार और सेबी के द्वारा उनके पैसे धीरे-धीरे वापस किये जा रहे हैं. भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) ने 11 साल में सहारा की दो कंपनियों के निवेशकों को 138.07 करोड़ रुपये वापस किए हैं. इसके साथ ही विशेष रूप से खोले गए बैंक खातों में जमा की गई रकम बढ़कर 25,000 करोड़ रुपये से अधिक हो गई है. सेबी ने अपनी ताजा वार्षिक रिपोर्ट में यह जानकारी दी है. सहारा की दो कंपनियों के ज्यादातर बॉन्डधारकों के दावा नहीं करने की स्थिति में सेबी 2022-23 में निवेशकों को सिर्फ सात लाख रुपये ही वापस कर सका. दूसरी ओर सेबी-सहारा रिफंड खाते की शेष धनराशि 1,087 करोड़ रुपये बढ़ गई.

सुप्रीम कोर्ट ने 2012 में पैसा लौटाने का दिया था आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने अगस्त, 2012 में लगभग तीन करोड़ निवेशकों को ब्याज के साथ उनका पैसा लौटाने का आदेश दिया था. सेबी ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि उसे 31 मार्च, 2023 तक 53,687 खातों से जुड़े 19,650 आवेदन मिले. इसमें 48,326 खातों से जुड़े 17,526 आवेदनों के संबंध में ब्याज सहित 138.07 करोड़ रुपये की कुल राशि वापस की गई. बाकी आवेदन सहारा समूह की दो फर्मों – सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉरपोरेशन लिमिटेड (SIREL) और सहारा हाउसिंग इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (SHICL) के डेटा में उनके रिकॉर्ड का पता नहीं लगाने के कारण बंद कर दिए गए थे.

कैसे मिलेगा पैसा वापस

केंद्र सरकार के द्वारा लॉच किये गए पोर्टल https://mocrefund.crcs.gov.in/ के माध्यम से सहारा समूह के चार को-ऑपरेटिव सोसाइटी के निवेशकों को ही पैसा वापस मिलेगा. पोर्टल के माध्यम से केवल वो निवेशक पैसा वापसी के लिए आवेदन कर सकते हैं जिन्होंने सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसइटी लिमिटेड, हमारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड और स्टार्स मल्टीपर्पज कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में अपना निवेश किया था. आवेदन करने से पहले निवेशक को पता करना होगा कि सहारा समूह की किस समिति में पैसा लगा है. साथ ही, आवेदक के पास इससे जुड़े सारे दस्तावेज होने चाहिए. सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड, सहारायन यूनिवर्सल मल्टीपर्पज सोसइटी लिमिटेड, हमारा इंडिया क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में जमाकर्ता के वही पैसे वापस होंगे जो 22 मार्च 2022 से पहले जमा हुए थे. जबकि, स्टार्स मल्टीपर्पज को-ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड हैदराबाद के 29 मार्च 2023 से पहले के निवेशक आवेदन कर सकते है.

कब मिलेगा पूरा पैसा वापस

सहारा इंडिया में निवेश करने वाले लोगों को सबसे पहले सरकार के द्वारा लॉच साइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा. जहां से इनके मोबाइल नंबर पर एक मैसेज भेज जाएगा. इसके बाद, उनके दावे को सहारा सोसाइटी के द्वारा 30 दिनों के अंदर वेरिफाइ किया जाएगा. इसके बाद सरकारी अधिकारियों के द्वारा इसपर 15 दिनों के अंदर इसपर कार्रवाई की जाएगी. निवेशक का दावा अप्रूव होने पर राशि सीधे आधार नंबर से जुड़े एकाउंट में भेज दिया जाएगा.

क्या है पैसा वापस करने का पूरा प्रोसेस

सहारा के निवेशक रिफंड के लिए आवेदन करने से पहले अपने सारे दस्तावेज इक्कठा कर लें. इसके बाद https://mocrefund.crcs.gov.in/ पोर्टल पर जाए. यहां मांगी गयी जानकारी देकर अपना रजिस्ट्रेशन करें. इसके बाद अपना आधार नंबर और उससे जुड़ा मोबाइल नंबर डालें. इसके बाद नीचे दिये सेंड ओटीपी पर क्लिक करें. मोबाइल पर आए ओटीपी को डाले. रजिस्ट्रेशन पूरा होने पर फिर से निवेशक लॉग इन में जाएं. यहां फिर से मोबाइल नंबर और आधार नंबर डाले. मोबाइल पर आए ओटीपी को डालें. इसके बाद मैं सहमत हूं पर क्लिक करें. आपसे और सोसाइटी के सदस्य होने से जुड़ी मांगी गयी पूरी जानकारी दें. क्लेम की राशि अगर 50 हजार से ऊपर है तो पैन नंबर भी डालें. बता दें कि निवेशक केवल एक बार दावा कर सकता है. इसलिए पूरी डिटेल को कई बार पढ़कर कंफर्म करें. आवेदन को डाउनलोड करके सुरक्षित रखें.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.