RIL-Future Group Deal को CCI की मंजूरी, डील रोकने की अमेजन की कोशिश हुई और कमजोर 

0 118

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) और फ्यूचर ग्रुप के 24,713 करोड़ रुपये के सौदे को मंजूरी प्रदान कर दी। सीसीआइ ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। मुकेश अंबानी नियंत्रित रिलायंस इंडस्ट्रीज की सहायक शाखा रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (आरआरवीएल) ने इस वर्ष अगस्त में फ्यूचर ग्रुप के रिटेल, होलसेल और लॉजिस्टिक्स समेत अधिकांश कारोबार का अधिग्रहण संबंधी सौदा किया था।

इसी सौदे को लेकर अमेरिकी ऑनलाइन रिटेलिंग दिग्गज अमेजन इंक और फ्यूचर ग्रुप में अदालती लड़ाई चल रही है। फ्यूचर ग्रुप और अमेजन के बीच का मामला दिल्ली उच्च न्यायालय में विचाराधीन है। फ्यूचर ग्रुप ने दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर कहा है कि अमेजन को इस सौदे में हस्तक्षेप करने से रोका जाए।


इस याचिका पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को फैसला सुरक्षित रख लिया।अदालत ने संबंधित पक्षों को इस पर उनकी लिखित प्रतिक्रिया जमा कराने के लिए 23 नवंबर तक का वक्त दिया है। पिछले वर्ष अमेजन ने फ्यूचर ग्रुप की एक गैर-सूचीबद्ध कंपनी फ्यूचर कूपंस लिमिटेड में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी।

इस सौदे के तहत उसे यह अधिकार मिला था कि वह फ्यूचर रिटेल लिमिटेड में तीन वर्षो से 10 वर्षों के भीतर हिस्सेदारी खरीद सकती है। अमेजन का दावा है कि फ्यूचर कूपंस के साथ हुआ उसका सौदा फ्यूचर ग्रुप को आरआइएल के साथ हुए सौदे से रोकता है।