समाजसेविका वीनू गोयल द्वारा 300 परिवारों को राशन वितरित

0 168

हर घर को मिले राशन की रोशनी, कोविड-19 को हराने के लिए यही है बड़ी जंगः वीनू गोयल

बठिंडा/सोनू टुटेजा । दिल्ली न्यूज़ 24 रिपोर्टर 

चाईना के वुहान शहर से दुनिया भर में फैला कोविड-19 नामक कोरोना वायरस को हराने के लिए भारत सरकार के आह्वान पर पंजाब में लगे कर्फ्यू के तहत पंजाब निवासी अपना पूरा सहयोग दे रहे हैं। इस के तहत जिला बठिंडा में लगे कर्फ्यू में आम जनता को राहत पहुंचाने के लिए जहां एक तरफ डीसी बठिंडा बी.श्रीनिवासन, एसएसपी डॉ. नानक सिंह के अलावा समस्त सिविल व पुलिस प्रशासन द्वारा प्रमुख हिदायतें जारी करके घर-घर राशन सप्लाई करवाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ सलाम है बठिंडा के समाजसेवकों का जिनके सहयोग से कोई भी परिवार भूखा नहीं रहता।

इसी के तहत समाजसेविका वीनू गोयल द्वारा भी अपने स्तर पर बठिंडा के जरूरतमंद परिवारों को राशन सप्लाई करवाकर उन्हें रोशनी दी जा रही है। डायमंड वीनू द्वारा दी जा रही राशन की रोशनी में अब तक करीब 300 परिवारों को रोशन किया जा चुका है। समाजसेविका वीनू गोयल ने बताया कि पिछले करीब 10 दिनों से उनके द्वारा अपने वालंटियरों के सहयोग से जरूरतमंद परिवारों को राशन सप्लाई किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अब तक उनके द्वारा 200 परिवारों को राशन सप्लाई किया जा चुका है व आज 80 परिवारों को राशन भेजा गया है।

उन्होंने बताया कि उनके द्वारा प्रत्येक परिवार के लिए 10 दिन का राशन भेजा जा रहा है व प्रत्येक परिवार के लिए आटा, दाल, चावल, चाय-चीनी, नमक, मीर्च, हल्दी, तेल, आलू व प्याज के पैकेट बनाए जाते हैं, जो कि दस दिनों का राशन होता है। वीनू गोयल ने बताया कि उनके द्वारा सिर्फ उन्हीं परिवारों को राशन सप्लाई किया जा रहा है, जिनके पास अनाज का एक भी दाना नहीं है। यहां तक कि उनके द्वारा मध्यम वर्ग के कुछ परिवारों को भी राशन सप्लाई करवाया गया है, जो शर्म के कारण कुछ मंगवा नहीं सकते। परंतु उनके द्वारा ऐसे परिवारों के अलावा समस्त परिवारों के नाम गुप्त रखे जाते हैं ताकि उन्हें बाद में किसी भी प्रकार की जिल्लत महसूस न हो।

उन्होंने बताया कि उनके द्वारा राशन के पैकेट तैयार करने के बाद सरकार व प्रशासन की हिदायतों का पालन करते हुए सिर्फ उन्हीं वालंटियरों के सहयोग से राशन सप्लाई करवाया जा रहा है, जिनके प्रशासन द्वारा पास जारी किए गए हैं। डायमंड गोयल ने आम जनता को अपील करते हुए कहा कि कोरोना महामारी से बचने का एक ही उपाय है कि जनता अपने अपने घरों में रहें व साफ-सफाई का ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जनता की रक्षा के लिए ही ठोस कदम उठाए गए हैं व जनता का भी फर्ज बनता है कि वह प्रशासन का सहयोग करें। वीनू ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए जनता भी अपना सहयोग दे रही है और यह सहयोग आम जनता द्वारा अपने अपने घरों में बंद रहकर ही दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद परिवारों को प्रशासन के अलावा डायमंड वैलफेयर सोसाईटी व जिला बठिंडा की सामाजिक संस्थाएं एक विशेष मुहिम व सामाजिक दूरी बनाकर राशन व लंगर सप्लाई कर रही हैं और कोई भी परिवार इस समय लाज से उपर उठकर जरूरी सामान के लिए उनको फोन कर सकता है, ताकि उन्हें किसी भी तरह की समस्याओं का सामना न करना पड़े। वीनू गोयल ने कहा कि अकसर देखने में आ रहा है कि मध्यम वर्गीय परिवारों द्वारा झिझक के कारण राशन के लिए फोन नहीं किया जाता, परंतु वह उनसे अपील कर रही हैं कि इस समय झिझक छोड़कर खुद आगे आएं ताकि परिवारों को राशन की समस्याओं से निजात मिल सके।

बठिंडा की ख़बरों की कवरेज़ के लिए सम्पर्क करें।  

सोनू टुटेजा, रिपोर्टर, दिल्ली न्यूज़ 24 (मोबाइल: 76268-82780)