अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण पर नेपाल में उत्सव, राम-जानकी के रंग में रंगे नेपाली, वीडियो वायरल

6

अयोध्या नगरी में भगवान राम के मंदिर का प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम अगले साल 22 जनवरी को होना है. इसकी तैयारी युद्ध स्तर पर जारी है. राम मंदिर ट्रस्ट जहां प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के लिए निमंत्रण भेज रहा है, वहीं भगवान राम के मंदिर के लिए कई तरह वस्तुएं विभिन्न राज्यों और देशों से अयोध्या नगरी पहुंच रही है. नेपाल के लोग अयोध्या में बन रहे राम मंदिर को लेकर अत्यधिक उत्साह में हैं. नेपालियों की यह मान्यता है कि माता सीता उनकी बेटी थी. नेपाल में जनकपुर है, जहां के राजा जनक की बेटी सीता थीं. इस लिहाज से नेपाल भगवान राम का ससुराल है. ऐसे में यह स्वाभाविक है कि उनके ससुराल में उत्सव का माहौल होगा.

राम-जानकी के रंग में रंगा नेपाल

नेपाल के लोग अपनी खुशी व्यक्त करने के लिए कई तरह के आयोजन भी कर रहे हैं. इसी क्रम में दूरदर्शन का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें नेपाली मिलकर राम-सीता की तस्वीर बना रहे हैं. यह तस्वीर रंगोली के रूप में जमीन पर बनाई जा रही है, जिसमें कई तरह के रंगों और और सामग्रियों का प्रयोग किया जा रहा है. इस रंगोली को बनाने के में कई कलाकार जुटे हैं और वे बेहद खूबसूरती के साथ अपने काम को अंजाम दे रहे हैं.

नेपाल से आभूषण और मिठाइयां आएंगी

राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर नेपाल में विशेष तैयारियां की गई हैं और इस दिन को यहां उत्सव के रूप में मनाया जाएगा. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नेपाल से राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में कई प्रकार के आभूषण, बर्तन, कपड़े और मिठाइयां भेजी जाएंगी. वहां से कई भक्त भी इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने भारत आने वाले हैं. नेपाल से आभूषण और मिठाइयां लेकर एक प्रतिनिधिमंडल 18 जनवरी को वहां से चलेगा और 20 जनवरी को अयोध्या पहुंचेगा.

राम मंदिर का प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम अनोखा

राम मंदिर के लिए नेपाल की पवित्र नदी कालीगंडकी से प्राप्त शिलाओं को भारत लाया गया है. इन शिलाओं से ही भगवान के बाल स्वरूप और अन्य मूर्तियों का निर्माण होगा. इस बात की खुशी पूरे नेपाल में है वे यह कह रहे हैं कि कभी हमने अपनी जानकी भगवान राम को दी थी और आज उनके मंदिर निर्माण के लिए शिला दिया है. देश में भी राम मंदिर के निर्माण को लेकर उत्सव का माहौल है. अयोध्या नगरी के स्टेशन को इस तरह से सजाया गया है, मानों हम त्रेता युग में पहुंच गए हों. राम मंदिर का प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम बहुत ही अनोखा होने वाला है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.