राम के नाम पर लूट! रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले QR कोड के जरिए ऐसे की जा रही ठगी, रहें सावधान…

26

Ayodhya Ram Mandir: भारत समेत पूरी दुनिया 22 जनवरी को ऐतिहासिक राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह का इंतजार कर रही है. राम मंदिर निर्माण से लेकर भव्य व्यवस्था के लिए करोड़ों लोग दान कर रहे हैं. इस बीच कई लोग ऐसे हैं जो रामनाम की आड़ में फर्जीवाड़ा करने से भी बाज नहीं आ रहे हैं. दरअसल राम मंदिर के लिए दान मांगने के बहाने राम भक्तों से ठगी का मामला सामने आ रहा है. इस घोटाले का खुलासा विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता विनोद बंसल ने सोशल मीडिया एक्स पर किया है. अपने पोस्ट में बंसल ने आम लोगों को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के नाम पर फर्जी आईडी बनाकर पैसे ठगने वाले गिरोह से सावधान रहने की अपील की है.

RSS प्रवक्ता विनोद बंसल ने सोशल मीडिया पर किया खुलासा
आरएसएस के प्रवक्ता विनोद बंसल ने अपने सोशल मीडिया एक्स (Twitter) पर कहा है कि कुछ लोग श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के नाम पर फर्जी आईडी बनाकर पैसे ठगने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने टैग करते हुए कहा कि @HMOIndia @CPdelhi @dgpup @Uppolice को ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए. अपने पोस्ट में बंसल ने यह भी साफ कर दिया है कि @ShriRamTeerth ने इस अवसर के लिए धन इकट्ठा करने के लिए किसी भी संस्था को अधिकृत नहीं किया है.’

भव्य प्राण प्रतिष्ठा का होगा आयोजन
राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अनुष्ठान 16 जनवरी से शुरू होंगे और 22 जनवरी तक कुल सात दिनों तक चलेंगे. अयोध्या में भव्य प्राण प्रतिष्ठा की तैयारी जारी है. मंदिर को अंतिम स्वरूप देने के साथ-साथ प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम को भी फाइनल किया जा रहा है. बता दें, अनुष्ठान के अंतिम दिन सबसे पहले रामलला स्वयं दर्पण में अपनी छवि निहारेंगे. भगवान राम को यह दर्पण पीएम नरेंद्र मोदी दिखायेंगे. इससे पहले मोदी वैदिक मंत्रोच्चार के बीच रामलला के नेत्रों से पट्टी खोले जाएंगे, उन्हें सोने के सिक्के से काजल लगायेंगे और पंचोपचार पूजन कर आरती उतारेंगे.

प्राण प्रतिष्ठा का शुभ मुहूर्त
राम मंदिर में भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का शुभ मुहूर्त का क्षण 84 सेकंड का होगा. 22 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 30 मिनट 08 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड से शुरू होगा. मुहूर्त काशी के ज्योतिषाचार्य पंडित गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने निकाला है. ये मुहूर्त देश के लिये शुभ होगा. पूजा के बाद 84 सेकंड के शुभ मुहूर्त में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रामलला को गर्भगृह में स्थापित करेंगे. ज्योतिषाचार्य के अनुसार प्रतितिष्ठत परमेश्वर इस मंत्र का मतलब है, परमेश्वर आप विराजमान हो.सनातन धर्म के प्रसिद्ध ग्रंथ ‘धर्म सिंधु’ में देव विग्रह के प्राण प्रतिष्ठा के लिए इस मंत्र को सर्वोत्तम बताया गया है.

गौरतलब है कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के भव्य आयोजन की जोर-शोर से तैयारी चल रही है. समारोह में कई गणमान्य लोग शामिल हो रहे हैं. इस बीच पीएम मोदी ने देश के लोगों से अपील की है कि वे 22 जनवरी को रामलला के मंदिर न जाएं और इसके बजाय अपने घरों पर ही दीया जलाएं. पीएम मोदी ने कहा कि पहले रामलला का आयोजन हो जाने दीजिए और फिर 23 जनवरी के बाद आप कभी भी मंदिर आ सकते हैं. उन्होंने कहा है कि हर कोई इस पावन कार्यक्रम में शामिल होना चाहता है लेकिन सुरक्षा कारणों से यह संभव नहीं हो पा रहा है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.