‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’: कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मंदिर जाने से रोका गया ?

6

‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ आज असम में हैं. यात्रा को बोर्डोवा जाने से रोकने पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि हमें वहां आमंत्रित किया गया और अब कहा जा रहा है कि आप नहीं जा सकते. मैं कारण पूछ रहा हूं कि क्यों नहीं जा सकते हैं? शायद आज सिर्फ एक ही व्यक्ति मंदिर जा सकता है. आपको बता दें कि लगातार कांग्रेस की ओर से बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं, और कहा जा रहा है कि राहुल गांधी कि यात्रा पर बीजेपी के कार्यकर्ता हमला कर रहे हैं.

राहुल गांधी ने कहा है कि उन्हें प्राधिकारी असम के नगांव स्थित श्री श्री शंकर देव मंदिर में जाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं.

22011 pti01 21 2024 000452a
Rahul Gandhi in Assam

प्रधानमंत्री मोदी तय करेंगे कि मंदिर में कौन जाएगा: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने असम के नगांव स्थित मंदिर में जाने से रोके जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए प्राधिकारियों से पूछा कि क्या अब यह प्रधानमंत्री मोदी तय करेंगे कि मंदिर में कौन जाएगा. असम के नगांव में एक स्थानीय मंदिर में जाने से ‘रोके जाने पर’ कांग्रेस नेता ने कहा कि हम कोई समस्या पैदा नहीं करना चाहते, केवल मंदिर में पूजा करना चाहते हैं.

बाद में मिली मंदिर जाने की अनुमति

इसके बाद खबर आई कि प्राधिकारियों ने असम के नगांव में शंकरदेव मंदिर में स्थानीय सांसद, विधायक को राहुल गांधी के बिना जाने की अनुमति दी.

राहुल गांधी को सड़क किनारे रेस्तरां में लोगों की भीड़ ने घेर लिया

आपको बता दें कि असम के नगांव जिले में रविवार शाम कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सड़क किनारे एक रेस्तरां में लोगों की भीड़ ने घेर लिया घटना तब हुई जब कांग्रेस नेता और कुछ अन्य नेता घटनास्थल से लगभग 10 किमी दूर रुपोही में अपने रात्रि प्रवास के लिए रास्ते में अंबागन के रेस्तरां में ठहरे हुए थे. भीड़ ने सांसद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और समागुरी से कांग्रेस विधायक रकीबुल हुसैन का जिक्र करते हुए ‘अन्याय यात्रा’ तथा ‘रकीबुल वापस जाओ’ जैसे नारे वाली तख्तियां दिखाने का काम किया. सुरक्षाकर्मियों ने गांधी और अन्य नेताओं को रेस्तरां से बाहर निकाला.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.