दिल्ली में सरकार बनते ही जाति जनगणना पर पहला हस्ताक्षर, महिलाओं के खाते में 15,000 : राहुल गांधी

34

बेमेतरा (छत्तीसगढ़) : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और पार्टी के महासचिव राहुल गांधी ने बुधवार को जाति जनगणना पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने छत्तीसगढ़ के बेमेतरा में आयोजित एक चुनावी रैली में जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में जब उनकी सरकार बनेगी, तो सबसे पहला काम जाति जनगणना पर हस्ताक्षर करने वाला होगा. उन्होंने कहा कि जाति जनगणना आजादी के बाद सबसे बड़ा क्रांतिकारी कदम होगा. इसके साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि महिलाओं के खाते में हर महीने 15,000 रुपये डाले जाएंगे. इसके अलावा, अरबपतियों का नहीं, किसानों का कर्ज माफ होगा.

ओबीसी और दलितों को मिलेगी भागीदारी

चुनावी राज्य छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में आयोजित एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने भाजपा का नाम लिये बिना कहा कि जब ओबीसी को अधिकार देने की बात आती है, तो वे कहते हैं कि कोई ओबीसी नहीं है. भारत में केवल एक ही जाति गरीब है. उन्होंने कहा कि भारत में ओबीसी हैं और हम पता लगाएंगे कि वे कितने हैं. चाहे वे 10, 20 या फिर 60 फीसदी ही क्यों न हों, हम इसका पता लगाकर रहेंगे. उन्होंने कहा कि देश में ओबीसी की आबादी जितनी भी होगी, उन्हें उतनी ही भागीदारी मिलेगी.

अरबपतियों का नहीं, किसानों का कर्ज होगा माफ

राहुल गांधी ने अपने बयान में आगे कहा कि अगर कर्ज माफ होगा, तो किसानों का होगा. किसी अरबपति का कर्ज माफी नहीं होगा. उन्होंने कहा कि चाहे यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करें या न करें, लेकिन छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार बनी, तो यहां पर जाति सर्वेक्षण कराया जाएगा. इसके साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि जब दिल्ली में हमारी सरकार बनेगी, तो सबसे पहला हस्ताक्षर जाति जनगणना पर होगा.

महिलाओं के खाते में 15,000 रुपये

उन्होंने कहा कि जिस दिन देश के ओबीसी, दलित और आदिवासियों को अपनी असली आबादी और ताकत का पता चल जाएगा, उस दिन देश हमेशा के लिए बदल जाएगा. आजादी के बाद जाति जनगणना कराना सबसे क्रांतिकारी फैसला होगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से हर सभी राज्य की सभी महिलाओं के खाते में 15,000 रुपये जमा कराए जाएंगे.

केजी से पीजी तक मुफ्त शिक्षा

राहुल गांधी ने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने एक ऐतिहासिक फैसले में केजी से पीजी तक की शिक्षा को फ्री कर दिया है. आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव का दूसरा चरण शुक्रवार को होना है. राज्य में पहले चरण का चुनाव 7 नवंबर को संपन्न हो गया है. वहीं राजस्थान में 25 नवंबर को मतदान होगा. इन दोनों राज्यों में फिलहाल कांग्रेस की सरकार है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.