Post Office Scheme: ये प्लान बंपर रिटर्न के साथ बचाएगा टैक्स

7

Post Office Scheme

Post Office Scheme: अगर मार्च शुरू होने से पहले आप अपना इनकम टैक्स (Income Tax) बचाने के बारे में सोच रहे हैं तो पोस्ट ऑफिस के स्कीम के बारे में सोच सकते हैं. पोस्ट ऑफिस की एक बेहतरीन योजना राष्ट्रीय बचत योजना या नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) है. ये एक फिक्स्ड इनकम बचत योजना है. इस स्कीम में कम से कम 5 साल के लिए निवेश करना होता है. पोस्ट ऑफिस के द्वारा इस योजना में शानदार ब्याज ऑफर किया जा रहा है. इसके साथ ही, इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत टैक्स में छूट भी मिलेगी. आप इसपर अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक के टैक्स की सेविंग कर सकते हैं. आप, इस स्कीम में सरकार के भरोसे के साथ निवेश कर सकते हैं.

Read Also: ओल्ड रिजीम में जमा करते हैं टैक्स! पैसा बचाने के लिए आजमा सकते हैं ये टिप्स

कितना कर सकते हैं निवेश

पोस्ट ऑफिस की इस योजना में आप कम से कम एक हजार रुपये और फिर 100 रुपये के मल्टीपल में में निवेश कर सकते हैं. योजना में निवेश करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है. इसे ऐसे समझ सकते हैं, जैसे- आपने एक महीने में एक हजार रुपये की बचत की, तो इसमें निवेश किया. फिर अगले महीने 10 हजार या एक साल रुपये तक निवेश कर सकते हैं. इस योजना की एक और बेहतरीन बात ये है कि इसमें आपको जमा राशि पर कम्पाउंड इंट्रेस्ट मिलता है. NSC अपने रिटर्न और बेनेफिट्स के कारण पोस्ट ऑफिस की सबसे लोकप्रिय स्माल सेविंग स्कीम में शामिल हैं. इसी कारण इसकी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है.

Bank FD से ज्यादा ब्याज मिलना

निवेशक को इस स्कीम में बैंक एफडी से ज्यादा ब्याज मिलता है. ज्यादातर बैंकों में एफडी इंटरेस्ट रेट (FD Interest Rate) 7 से लेकर 7.5 फीसदी के आसपास हैं. वहीं, हर तीन महीने में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट और अन्य स्माल सेविंग स्कीम में ब्याज को संशोधन किया जाता है. इसमे निवेश की सुरक्षा खुद सरकार देती है. वर्तमान में योजना पर आपको 7.7 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा. हालांकि, ध्यान देने की जरुरत है कि अगर आपको ऑफर किए जा रहे ब्याज का पूरा फायदा लेना चाहते है, तो फिर इस पोस्ट ऑफिस स्कीम में अपने निवेश को लॉक-इन-पीरियड तक चालू रखना होगा, सभी आपको पूरे ब्याज का भुगतान किया जाएगा. NSC में 5 वर्ष का लॉक-इन पीरियड तय किया गया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.