Post Office Scheme: बच्चों के भविष्य के लिए जमा करें 6 रुपये, मैच्‍योर‍िटी पर मिलेंगे लाखों, जानें योजना

12

Post Office Scheme: बच्चों के पढ़ाई लिखाई के साथ-साथ उनके अच्छे भविष्य की चिंता हर माता-पिता को होती है. अगर आपको भी अपने बच्चे के भविष्य की चिंता सता रही है तो देर न करें, डाकघर की इस स्कीम को जानकर उनमें निवेश कर सकते हैं. हम आपको आपके बच्चे से जुड़ी डाकघर की इस खास योजना की जानकारी दे रहे हैं जो आगे चलकर आपके बच्चे के लिए उपयोगी साबित हो सकती हैं. इस योजना का नाम है बाल जीवन बीमा योजना.

बाल जीवन बीमा योजना (Bal Jeevan Bima Yojana): महंगाई के इस दौर में बच्चों की परवरिश और अच्छी शिक्षा काफी महंगी हो गई है. ऐसे में अगर आप अपने बच्चे के भविष्य को लेकर फिक्रमंद हैं और निवेश करने की सोच रहे हैं तो आप पोस्ट ऑफिस का बाल जीवन बीमा योजना में निवेश कर सकते हैं. यह डाकघर की अच्छी स्कीम है. सबसे खास बात की इस योजना के तहत आप महज 6 रुपये निवेश कर अपने बच्चे की पढ़ाई लिखाई से लेकर उनकी दूसरी जरूरतों के लिए लाखों रुपए पा सकते हैं.

क्या है योजना
पोस्ट ऑफिस की बाल जीवन बीमा योजना ग्रामीण डाक जीवन बीमा के तहत आती है. सरकार ने इस योजना को खासतौर पर बच्चों के लिए बनाया है. इस योजना को माता-पिता अपने बच्चों के नाम से खरीद सकते हैं. उन्हें ही नॉमिनी बनाया जा सकता है. इस योजना के तहत प्रतिदिन 6 रुपए से लेकर 18 रुपए तक का प्रीमियम जमा करना होता है. माता-पिता प्रिमियम को महीने में, , तीन महीने में, छह महीने और सालाना आधार पर जमा कर सकते हैं. बाल जीवन बीमा योजना में मैच्योरिटी पर एक लाख रुपए के सम एश्योर्ड का लाभ दिया जाता है. अगर कोई कोई पॉलिसी होल्डर इस पॉलिसी को 5 साल के लिए खरीदा है तो उसे प्रतिदिन 6 रुपए का प्रीमियम जमा करना होगा. बता दें, यह स्कीम सिर्फ 5 से लेकर 20 साल के बच्चों को ही कवर देता है.

शर्ते

  • इस योजना में सिर्फ बच्चों को ही नॉमिनी बनाया जा सकता है.

  • बाल जीवन बीमा खरीदने के लिए बच्चों के माता-पिता की आयु 45 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए.

  • 5 से 20 साल तक के बच्चों को ही योजना का लाभ मिलता है.

  • 5 साल की उम्र में रोजाना 6 रुपये प्रीमियम जमा करना होता है.

  • वहीं, अगर बच्चे की उम्र 20 साल है तो हर द‍िन 18 रुपये का प्रीमियम जमा करना होगा.

बाल जीवन बीमा योजना के फायदे

  • बाल जीवन बीमा योजना की मैच्योरिटी पर पॉलिसी होल्डर को पूरा पैसा दे दिया जाता है.

  • अगर योजना पूरी होने से पहले माता-पिता की मृत्यु हो जाती है तो बच्चे को प्रीमियम नहीं जमा करना पड़ेगा.

  • वहीं अगर बच्चे की मौत हो जाती है तो नॉमिनी को सम एश्योर्ड का भुगतान कर दिया जाता है.

  • इस योजना का लाभ एक परिवार के दो बच्चों को ही मिलता है.

बाल जीवन बीमा योजना के लिए दस्तावेज

  • माता-पिता का आधार कार्ड

  • बच्चे का आधार कार्ड

  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र

  • आवास प्रमाण पत्र

  • मोबाइल नंबर

  • पासपोर्ट साइज फोटो

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.