PM Modl LIVE : पीएम मोदी की मुख्‍यमंत्रियों से बातचीत शुरू, कई मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

0 167

नई दिल्‍ली, PM Modl LIVE : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देश में लागू लॉकडाउन से बाहर निकलने के लिए सोमवार दोपहर तीन बजे से पीएम नरेंद्र मोदी मुख्‍यमत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। कोरेाना महामारी शुरू होने के बाद पीएम मोदी पांचवीं बार मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद करेंगे।

– पीएम मोदी की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मुख्‍यमंत्रियों से बातचीत शुरू हो गई है। इस दौरान कई मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। मीटिंग में पीएम मोदी के साथ गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और संबंधित अधिकारी भी मौजूद हैं।

– सूत्रों के मुताबिक, ममता बनर्जी ने ट्रेन सर्विस को बहाल करने का विरोध किया है। ममता ने स्पेशल ट्रेनों को चलाए जाने पर ऐतराज जताया है। हो सकता है कि पीएम मोदी के साथ बातचीत में भी यह मुद्दा उठे।

– पिछली वीडियो कांफ्रेंसिंग में कुछ मुख्यमंत्रियों को बोलने का मौका नहीं मिला था। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने इसका विरोध भी जताया था। इसको ध्यान में रखते हुए इस मीटिंग में हर मुख्यमंत्री को बोलने का मौका दिया जाएगा।

– विजय रुपाणी के बाद तेलंगाना के सीएम मुख्यमंत्री केसीआर पीएम मोदी से अपनी बात रखेंगे। उनके बाद राजस्थान के सीएम अशोक गहलौत, उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे पीएम मोदी से कोरेाना वायरस की स्थिति और आर्थिक गतिविधियों को लेकर बातचीत करेंगे। इनके बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से लेकर शिवराज सिंह चौहान और नीतीश कुमार भी पीएम मोदी को स्थिति की जानकारी देंगे।

– जानकारी के अनुसार, शुरुआत में पीएम मोदी की आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री जगन मोहन रेड्डी से बातचीत होगी, फिर अरुणाचल के मुख्यमंत्री और तीसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी अपनी बात रखेंगी। इसके बाद तमिलनाडु के सीएम पलानीसामी, छत्तीसगढ़ के भूपेश बघेल और गुजरात के विजय रुपाणी का नंबर आएगा।

कई मुद्दों पर हो सकती है बातचीत

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने बताया कि यह वीडियो कांफ्रेंसिंग सोमवार को दोपहर बाद तीन बजे शुरू होगी। सरकारी सूत्रों के अनुसार, बैठक में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने तथा कोरोना के ज्यादा मामले वाले ‘रेड जोन’ को ‘ऑरेंज’ या ‘ग्रीन’ जोन में बदलने के लिए प्रयासों पर भी चर्चा होगी। मालूम हो कि इससे पहले जब प्रधानमंत्री ने 27 अप्रैल को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की थी, तब देशभर में कोरोना के मामले 28 हजार से कुछ ही ज्यादा थे। लेकिन अब यह आंकड़ा 67 हजार से ज्‍यादा हो गया है।

मुख्यमंत्रियों की बैठक में छूट का खाका हो सकता है तैयार

सूत्रों का कहना है कि 17 मई को लॉकडाउन का तीसरा चरण खत्म होने के साथ सरकार और छूट देने का मन बना रही है। प्रधानमंत्री के साथ सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में इसका खाका तैयार हो सकता है। इस बैठक में सभी मुख्यमंत्रियों को विचार रखने को कहा गया है। मंगलवार से कुछ चुनिंदा रूटों पर यात्री ट्रेनों के संचालन के एलान के बाद इस बैठक से उम्मीदें और भी बढ़ गई हैं। अब सीमित तौर पर विमानों के भी उड़ाने की तैयारी है। बैठक में प्रधानमंत्री के साथ-साथ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और अन्‍य लोग भी शामिल रहेंगे।

देर रात तक चल सकती है बैठक

अब केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारों तक में यह राय बनती दिखने लगी है कि अब हमें कोरोना वायरस के साथ जीना सीखना होगा। लॉकडाउन ने कोरोना की गति रोक दी है और अब तैयारी के साथ इससे लड़ना भी सीखना है और रोजमर्रा की गतिविधियों को भी सुचारू तरीके से चलाते रहना है। सोमवार को दोपहर तीन बजे शुरू होने वाली यह बैठक आधे घंटे के ब्रेक के साथ देर रात तक चल सकती है। बताया जाता है कि सभी मुख्यमंत्रियों से उनकी तैयारियों, लॉकडाउन में राहत के बाद की स्थिति पर राय ली जाएगी।