पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 15वीं किस्त का पैसा आने से पहले जरूर करें ये काम, नहीं तो रूक जाएगा आपका पैसा

54

PM Kisan Yojana: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के द्वारा पिछले महीने 27 जुलाई को पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 14वीं किस्त जारी कर दी गयी है. इस योजना के तहत 18 हजार करोड़ रुपये की राशि सीधे किसानों के खाते में डाली गयी है. अब योजना के 15वें किस्त के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. वहीं, जिन लोगों के 14वीं किस्त में पैसा किसी कारण से नहीं मिला है. उन्हें भी अपना बैंक खाता में केवाईसी चेक करने की जरूरत है. इसके साथ ही, योजना का लाभ लेने के लिए PM Kisan e-KYC Online होना जरूरी है.

PM Kisan e-KYC Online कैसे करें?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत ई-केवाईसी आप ऑफिशियल साइट से भी कर सकते हैं. इसके लिए सबसे पहले पीएम किसान सम्मान निधि की ऑफिशियल वेबसाइट pmkisan.gov.in पर विजिट करें. अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलेगा. यहां होम पेज नजर आ रहे विकल्पों में से Farmers Corner के सेक्शन में e-Kyc का विकल्प चुनें. अब आधार नंबर डालने के बाद नीचे आधार से रजिस्टर मोबाइल नंबर दर्ज करना है. इसके बाद Get Mobile OTP के विकल्प पर क्लिक करना है. अब आपके आधार से पंजीकृत मोबाइल पर ओटीपी आयेगा. इसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना है. यहां आपको ओटीपी दर्ज करके सबमिट ओटीपी के बटन पर क्लिक करना है. इस तरह आपकी ऑनलाइन ई-केवाईसी की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और आपको EKYC is successfully submitted का नोटिफिकेशन मिल जाएगा.

पीएम किसान बेनेफिशियरी लिस्ट में नाम जरूरी

किसी भी किसान के लिए पीएम किसान सम्मान योजना का लाभ लेने के लिए बेनेफिशियरी लिस्ट में नाम होना जरूरी है. अपना नाम चेक करने के लिए पीएम किसान सम्मान निधि के पोर्टल https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं. अब यहां दिये किसान कॉर्नर में जाएं. वहां से लाभार्थी सूची पर क्लिक करें या बेनेफिशियरी लिस्ट में क्लिक करें. इसके बाद राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक, गांव का चयन करें. अब ‘रिपोर्ट प्राप्त करें’ टैब पर क्लिक करें. आपके सामने पीएम किसान योजना के लाभार्थियों की सूची खुल जाएगी. इस सूची में आपका नाम दर्ज होना चाहिए और खाते की ईकेवाइसी कंप्लीट होनी जरूरी है. ऐसा है तो पीएम किसान की 14वीं किस्त आपके खाते में आ जाएगी.

पीएम-किसान योजना की क्या है मुख्य विशेषताएं

पीएम-किसान योजना के तहत, पात्र किसानों को रुपये की प्रत्यक्ष आय सहायता मिलती है. 6,000 प्रति वर्ष यह राशि रुपये की तीन समान किस्तों में भुगतान की जाती है. प्रत्येक लाभार्थी किसान के बैंक खाते में सीधे 2,000 रु डाले जाते हैं. योजना के लिए पात्र होने के लिए, किसानों को कुछ मानदंडों को पूरा करना होगा। वे छोटे और सीमांत किसान होने चाहिए, जिनके पास 2 हेक्टेयर तक खेती योग्य भूमि हो. इस योजना का उद्देश्य सीमित भूमि जोत वाले किसानों का समर्थन करना है, क्योंकि उन्हें अक्सर कृषि खर्चों को पूरा करने में चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. बड़े और समृद्ध किसान जिनके पास 2 हेक्टेयर से अधिक भूमि है, साथ ही संवैधानिक पद रखने वाले व्यक्ति, केंद्र या राज्य सरकार के सेवानिवृत्त और सेवारत अधिकारी और कर्मचारी, और जो आयकर का भुगतान करते हैं, उन्हें इस योजना से बाहर रखा गया है.

क्या है पीएम किसान सम्मान निधि

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) छोटे और सीमांत किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक सरकारी योजना है. योजना का प्राथमिक उद्देश्य रुपये की आय सहायता सुनिश्चित करना है. साथ ही, पात्र किसानों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये और उनकी कृषि संबंधी जरूरतों को पूरा करने में मदद करना है. पीएम-किसान योजना का उद्देश्य किसानों को वित्तीय स्थिरता प्रदान करना और प्रत्यक्ष आय सहायता सुनिश्चित करके ग्रामीण संकट को कम करना है. यह भारत में किसानों की भलाई में सुधार और टिकाऊ कृषि को बढ़ावा देने के सरकार के प्रयासों का हिस्सा है.

किसान पंजीकरण फॉर्म भरें

किसान पंजीकरण फॉर्म को अपने नाम, पते, बैंक खाते की जानकारी और भूमि स्वामित्व विवरण सहित सटीक विवरण के साथ भरें. सभी आवश्यक विवरण भरने के बाद, प्रदान की गई जानकारी की समीक्षा करें, और पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें. एक बार जब आप सफलतापूर्वक पंजीकरण फॉर्म जमा कर देते हैं, तो आप पीएम-किसान वेबसाइट पर अपने आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं. संबंधित अधिकारी विवरण सत्यापित करेंगे, और सफल सत्यापन पर, आपका नाम पीएम-किसान लाभार्थी सूची में जोड़ा जाएगा. एक बार जब आपका नाम पीएम-किसान लाभार्थी सूची में जुड़ जाता है, तो आपको रुपये की आय सहायता मिलनी शुरू हो जाएगी. प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) के माध्यम से सीधे आपके बैंक खाते में तीन समान किस्तों में 6,000 रुपये प्रति वर्ष. पीएम-किसान योजना में सफल नामांकन सुनिश्चित करने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान सटीक और प्रामाणिक जानकारी प्रदान करना आवश्यक है. किसी भी अन्य सहायता या स्पष्टीकरण के लिए, आप निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर भी जा सकते हैं या आधिकारिक पीएम-किसान वेबसाइट पर दिए गए हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.