कर्नाटक लौटने वाले लोगों को किया जाएगा क्वारंटाइन, होटलों की दरों को भी किया जाएगा तय

0 120

कर्नाटक लौटने वाले कोरोना वायरस के लक्षण और बिना लक्षण वाले लोगों को संस्थागत संगरोध में रहना होगा।
बेंगलुरु (कर्नाटक), एएनआइ। देश में जारी कोरोना महामारी के बीच कर्नाटक सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के बताया कि अन्य राज्यों से कर्नाटक लौटने वाले लोगों को संस्थागत संगरोध में रहना होगा, भले ही उनमें कोरोना वायरस के लक्षण ना हों।

राज्य के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण सेवा द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया है, ‘किसी भी राज्य से कर्नाटक लौटने वाले सभी व्यक्तियों को संस्थागत संगरोध में रखा जाएगा।’

इसमें आगे कहा गया है कि गोवा से आने का दावा करने वाले व्यक्तियों को जिला उपायुक्त वेरिफाइ करेंगे और पर्याप्त क्षमता उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में, उन्हें 14 दिनों की अवधि के लिए घर के संगरोध में रखा जा सकता है। डिप्टी कमिश्नर / स्पेशल कमिश्नर, बीबीएमपी उन होटलों के लिए दरों को तय करेगा जहां बाहर से आने वाले लोगो दैनिक भुगतान के आधार पर रहेंगे।