Paytm Share Price: पेटीएम का शेयर बेचने की मच गयी होड़, 20 प्रतिशत गिरा स्टॉक का भाव, जानें क्या है कारण

5

Paytm Share Price: आज सुबह खुलते पेटीएम के शेयर का भाव औंधे मुंह गिर गया. वन97 कम्युनिकेशंस यानी पेटीएम (One 97 Communications Ltd) को आरबीआई ने अपना ऑपरेशन 29 फरवरी से बंद करने का आदेश दिया है. दोपहर 12.30 बजे कंपनी के शेयर का भाव 19.99 प्रतिशत यानी 152.20 रुपये गिरकर 609 रुपये पर था. इससे पहले 20 अक्टूबर 2023 को पेटीएम के शेयर का भाव 998.30 रुपये पर पहुंच गया था जो 52 हफ्तों का हाई है. पिछले एक साल में कंपनी के शेयर ने निवेशकों को 16.25 प्रतिशत यानी 85.15 रुपये का रिटर्न दिया है.

क्या है आरबीआई का आदेश

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड को किसी भी ग्राहक खाते, प्रीपेड साधन, वॉलेट एवं फास्टैग में 29 फरवरी, 2024 के बाद जमा या टॉप-अप स्वीकार न करने का बुधवार को निर्देश दिया. हालांकि, पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) के ग्राहकों को किसी भी ब्याज, कैशबैक या रिफंड को किसी भी समय जमा किया जा सकता है. आरबीआई ने एक बयान में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि यह कदम व्यापक प्रणाली ऑडिट रिपोर्ट और बाहरी ऑडिटरों की अनुपालन सत्यापन रिपोर्ट के बाद उठाया गया है. इन रिपोर्टों से भुगतान बैंक में लगातार नियमों के गैर-अनुपालन और सामग्री पर्यवेक्षण से जुड़ी चिंताएं सामने आईं. आरबीआई ने इसके पहले 11 मार्च, 2022 को पीपीबीएल को तत्काल प्रभाव से नए ग्राहकों को जोड़ने से रोक दिया था.

पेमेंट बैंक से नहीं होगा कोई काम

आरबीआई ने कहा कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ग्राहकों को बचत बैंक खाते, चालू खाते, प्रीपेड माध्यम, फास्टैग, नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) सहित अपने खातों से शेष राशि की निकासी या उपयोग की अनुमति किसी प्रतिबंध के बगैर दी जाएगी.

पेटीएम समूह की कंपनी पीपीबीएल ने बैंक के खिलाफ आरबीआई के निर्देश पर कोई टिप्पणी नहीं दी. आरबीआई ने यह भी कहा कि पेटीएम का संचालन करने वाली कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड और पेटीएम पेमेंट्स सर्विसेज के ‘नोडल खातों’ को 29 फरवरी से पहले जल्द-से-जल्द जल्द समाप्त किया जाना चाहिए.

पहले की लेनदेन का मार्च तक करना है निपटान

वन97 कम्युनिकेशंस के पास पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है लेकिन वह इसे अपनी सहयोगी के रूप में वर्गीकृत करता है, न कि अनुषंगी कंपनी के रूप में. आरबीआई ने कहा कि पहले किए जा चुके लेनदेन और नोडल खातों का निपटान 15 मार्च, 2024 तक पूरा किया जाए और उसके बाद किसी और लेनदेन की अनुमति नहीं दी जाएगी. इससे पहले, एनएचएआई की इकाई आईएचएमसीएल ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक को नए फास्टैग जारी करने से रोक दिया. उसने पाया था कि पीपीबीएल सेवा-स्तर समझौते में निर्धारित मानकों का पालन नहीं कर रही है.

(भाषा इनपुट)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.