I-N-D-I-A गठबंधन के दलों को नोटिस, हाई कोर्ट सुनवाई को तैयार

11

लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू हो चुकी है. एनडीए के साथ-साथ विपक्षी दल भी रणनीति बनाने में जुट चुके है. पिछले दिनों 26 विपक्षी दलों का गठबंधन हुआ था जिसका शॉर्ट नेम INDIA रखा गया. इस नाम को लेकर एनडीए के नेताओं ने विपक्षी दल पर करारा प्रहार किया. इस बीच इसके खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गयी है. इस याचिका पर कोर्ट ने विपक्षी दलों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. विपक्षी दलों के गठबंधन का नाम इंडियन नेशनल डिवेलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस, जिसका शॉर्ट फॉर्म I-N-D-I-A होता है. याचिकाकर्ता की अर्जी पर सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस सतीश चंद्र शर्मा और जस्टिस संजीव नरूला की बेंच ने कहा कि यह मामला सुनवाई करने के योग्य है. इसके साथ ही बेंच ने विपक्षी दलों को नोटिस जारी किया और नाम रखने को लेकर जवाब मांगा है.

जानकारी के अनुसार दिल्ली हाई कोर्ट ने इस जनहित याचिका पर केंद्र, चुनाव आयोग और कई विपक्षी राजनीतिक दलों को नोटिस जारी किया है. याचिका में विपक्षी राजनीतिक दलों के द्वारा I.N.D.I.A नाम के इस्तेमाल पर रोक लगाने का निर्देश देने की मांग की गयी है. याचिकाकर्ता के द्वारा कहा गया है कि विपक्ष ने देश के नाम पर ही अपने गठबंधन का नामकरण कर दिया है. यह देश के नाम पर अगले लोकसभा चुनाव से पहले बेवजह लाभ लेने का प्रयास है. इस पर बेंच ने कहा कि यह केस सुनवाई करने योग्य है. हालांकि इसकी अगली सुनवाई अक्टूबर में किये जाने का निर्णय लिया गया है.

अलायंस का नाम I-N-D-I-A रखने का फैसला

आपको बता दें कि बिहार की राजधानी पटना में विपक्षी दलों की पहली बैठक हुई थी. इसके बाद दूसरी बैठक बेंगलुरु में हुई जिसमें गठबंधन का नाम इंडियन नेशनल डिवेलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस यानी I-N-D-I-A रखने का फैसला लिया गया. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बिहार से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के सांसदों को संबोधित किया और इस विपक्षी गठबंधन का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार अब विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का हिस्सा हैं. आपको बता दें कि पीएम मोदी लगातार ‘I-N-D-I-A’ नाम को लेकर विपक्षी गठबंधन पर हमलावर नजर आ रहे हैं.

‘घमंडिया’ कहने की रणनीति

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गुरुवार को पीएम मोदी ने विपक्षी गठबंधन को ‘I-N-D-I-A’ के बजाए ‘घमंडिया’ कहने की रणनीति तैयार की है. उन्होंने कहा है कि गठबंधन का नाम बदलना विपक्षी दलों और खासतौर से कांग्रेस पर UPA का पुराना रिकॉर्ड साफ करने का एक प्रयास है. उल्लेखनीय है कि बीजेपी के कई नेता विपक्षी दलों के गठबंधन पर इस तरह के आरोप लगा चुके हैं.

बेंगलुरु की बैठक के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा था कि हमारी लड़ाई बीजेपी की विचारधारा और सोच के खिलाफ है. वो देश पर आक्रमण करने का काम कर रहे हैं. लड़ाई बीजेपी और देश के लोगों के बीच है. ये लड़ाई नरेंद्र मोदी और I-N-D-I-A के बीच है. उन्होंने कहा था कि ये लड़ाई विपक्ष और बीजेपी के बीच नहीं है. ये देश की लड़ाई है. यही वजह है कि गठबंधन का नाम I-N-D-I-A नाम रखा गया. जंग NDA और I-N-D-I-A के बीच है.

विपक्षी की अगली बैठक मुंबई में

अगले लोकसभा चुनाव में बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी को कड़ी चुनौती देने के मकसद से 26 विपक्षी दलों ने दूसरी बैठक बेंगलुरु में हुई थी. इससे पहले 23 जून को पटना में पहली बैठक की गयी थी. इस दौरान चुनावी रणनीति, गठबंधन का नाम, सीट बंटवारे जैसे कई मुद्दों पर चर्चा की गयी. अगली बैठक के बारे में बताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे कह चुके हैं कि वो मुंबई में होगी.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.