ओडिशा ट्रेन हादसाः अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज, धारा 153-154 और 175 के तहत FIR

47

ओडिशा ट्रेन हादसाः ओडिशा के बालासोर के पास हुए भीषण ट्रेन दुर्घटना में अज्ञात लोगों के खिलाफ रेलवे अधिनियम की धारा 153, 154 और 175 के तहत कटक में सरकारी रेलवे पुलिस की ओर से मामला दर्ज किया गया है. बालासोर जीआरपीएस के एसआई पापु कुमार नाइक की शिकायत के बाद प्राथमिकी दर्ज की गई है. बता दें, इतने बड़े रेल हादसे में करीब 275 लोगों की जान चली गई. 1100 के करीब लोग घायल हुए है. कई घायलों की हालत काफी गंभीर है.

सीबीआई करेगी हादसे की जांच!
इधर, हादसे के बाद रेलवे बोर्ड ने घटना की सीबीआई से जांच कराने की बात कही है. अधिकारियों ने बताया की प्रक्रिया के अनुसार केंद्रीय एजेंसी ओडिशा पुलिस की ओर से तीन जून को दर्ज बालासोर जीआरपी केस नंबर-64 को अपने हाथ में लेगी. यह मामला ट्रेन हादसे के एक दिन बाद दर्ज किया गया था. यह मामला भारतीय दंड संहिता (IPC,आईपीसी) की धारा 337, 338, 304 ए और 34 और धारा 153 और रेलवे अधिनियम 154 और 175 के तहत दर्ज किया गया था.

गौरतलब है कि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बीते दिन यानी रविवार शाम को कहा था कि हमने ट्रेन हादसे से जुड़ी दुर्घटना की सीबीआई जांच की सिफारिश की है. रेलवे ने ओडिशा ट्रेन हादसे में रविवार को एक तरह से चालक की गलती और प्रणाली की खराबी की संभावना से इनकार किया तथा संभावित तोड़फोड़ और इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग प्रणाली से छेड़छाड़ का संकेत दिया था.

रेल मंत्री ने संपर्क करने की अपील
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि रविवार रात से ही प्रभावित क्षेत्र को बहाल कर दिया गया और परिचालन सामान्य हो रहा है. उन्होंने कहा कि आज हमारा फोकस देश भर में हादसे के पीड़ितों को उनके परिवार से मिलवाने पर था. रेल मंत्री ने कहा कि मैं देश भर के लोगों से हमारे टोल-फ्री नंबरों पर हमसे संपर्क करने की अपील करता हूं ताकि आगे की प्रक्रिया जारी रहे.

कैसे हुआ इतना बड़ा हादसा
बता दें, कोरोमंडल एक्सप्रेस शुक्रवार शाम करीब सात बजे लूप लाइन पर खड़ी एक मालगाड़ी से टकरा गई, जिससे कोरोमंडल एक्सप्रेस के अधिकतर डिब्बे पटरी से उतर गए थे. उसी समय वहां से गुजर रही तेज रफ्तार बेंगलुरु-हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस के कुछ डिब्बे कोरोमंडल एक्सप्रेस से टकरा कर पटरी से उतर गए. इस हादसे में कम से कम 275 लोगों की जान चली गई. वहीं 1100 घायल हो गये.

महाराजा चार्ल्स ने भेजा शोक संदेश
इधर, ट्रेन हादसे को लेकर ब्रिटेन के महाराजा चार्ल्स तृतीय ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को शोक संदेश भेजा है. किंग चार्ल्स तृतीय ने घटना पर गहरा दुख जताया है. अपने संदेश में महाराजा ने 43 साल पहले की अपनी ओडिशा यात्रा को भी याद किया. बकिंघम पैलेस की ओर से जारी बयान में महाराजा चार्ल्स ने कहा वो और उनकी पत्नी महारानी कैमिला बालासोर में हुई भीषण रेल दुर्घटना की खबर से बेहद व्यथित और दुखी हैं. मैं इस हादसे में जान गंवाने वाले सभी लोगों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.