Nova Agritech IPO: 22 जनवरी को खुलेगा नोवा एग्रीटेक का आईपीओ, जानें प्राइस बैंड और GMP

5

Nova Agritech IPO: अगर आप आईपीओ में पैसा लगाने के लिए सोच रहें हैं तो आपके लिए एक बेहतरीन मौका शेयर बाजार में आने वाला है. नोवा एग्रीटेक लिमिटेड ने अपने 144 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) के लिए मूल्य दायरा 39-41 रुपये प्रति शेयर तय किया है. कंपनी ने बुधवार को यह जानकारी दी. कंपनी का आईपीओ 22 जनवरी को खुलकर 24 जनवरी को बंद होगा. आईपीओ के तहत 112 करोड़ रुपये तक के नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसके अलावा इसमें एक शेयरधारक नुतलापति वेंकटसुब्बाराव द्वारा 77.58 लाख इक्विटी शेयरों की ऑफर फॉर सेल (OFS) लाई जाएगी. उनके पास कंपनी की 11.9 प्रतिशत हिस्सेदारी है. मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर पर कंपनी 143.81 करोड़ रुपये जुटाएगी. नोवा एग्रीटेक आईपीओ लॉट साइज 365 इक्विटी शेयर और उसके बाद 365 इक्विटी शेयरों के गुणकों में है. इसका अर्थ है कि निवेशकों को इसके लिए कम से कम 14,965 रुपये का निवेश करना होगा.

30 जनवरी को लिस्ट हो सकती है कंपनी

नोवा एग्रीटेक आईपीओ के शेयरों के आवंटन के आधार को गुरुवार, 25 जनवरी को अंतिम रूप दिया जाएगा. कंपनी 29 जनवरी को रिफंड शुरू करेगी जबकि शेयरों को रिफंड के बाद उसी दिन आवंटियों के डीमैट खाते में जमा किया जाएगा. नोवा एग्रीटेक का शेयर मंगलवार, 30 जनवरी को बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध होने की संभावना है.

क्या करती है कंपनी

नोवा एग्रीटेक लिमिटेड फसल सुरक्षा, फसल पोषण और मृदा स्वास्थ्य प्रबंधन में माहिर है. कंपनी का तकनीक-संचालित किसान-संचालित समाधान दृष्टिकोण ऐसे उत्पाद प्रदान करने की अनुमति देता है जो अनुसंधान और विकास पर ध्यान देने के साथ पोषण की दृष्टि से संतुलित और पर्यावरण की दृष्टि से टिकाऊ दोनों हैं. कंपनी जिन उत्पाद श्रेणियों का निर्माण, वितरण और विपणन करती है उनमें मिट्टी के स्वास्थ्य के प्रबंधन के लिए उत्पाद, फसल पोषण के लिए उत्पाद, बायोस्टिमुलेंट उत्पादन, जैव कीटनाशकों का उत्पादन, एकीकृत कीट प्रबंधन का उत्पादन और फसल सुरक्षा के लिए उत्पाद. वर्तमान में, कंपनी की सहायक कंपनी नोवा एग्री साइंसेज प्राइवेट लिमिटेड फसल सुरक्षा उत्पादों के उत्पादन का प्रभारी है.

आईपीओ क्या होता है

आईपीओ का पूरा नाम Initial Public Offering है. यह एक वित्तीय प्रक्रिया है जिसमें किसी प्राइवेट कंपनी ने अपने स्टॉक के खुले बाजार में निवेशकों के लिए प्रस्तावना जारी करने का निर्णय लिया होता है. यह उस कंपनी के लिए पहली बार होता है जब वह खुले बाजार में अपने शेयरों को बेचने के लिए जाती है. जब एक कंपनी आईपीओ जारी करती है, तो वह अपने शेयरों का प्रचार प्रसार करती है और इंवेस्टर्स को अपने शेयरों को खरीदने का मौका देती है. आईपीओ के माध्यम से कंपनी उसके स्टॉक को सार्वजनिक और न्यूजीज माध्यमों के माध्यम से निवेशकों के लिए उपलब्ध कराती है ताकि वे उसे खरीद सकें. आईपीओ के माध्यम से कंपनी अधिकतर अपने स्टॉक के लिए नए निवेशकों को खींचने की कोशिश करती है और इसके माध्यम से कंपनी अधिकतर पूंजी एकत्र करके अपने विकास और वित्तीय योजनाओं को पूरा करती है. यह निवेशकों के लिए एक आकर्षक विकल्प होता है क्योंकि यह उन्हें एक सार्वजनिक कंपनी के मालिक बनाने का अवसर प्रदान करता है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.