रात में एसी-कूलर चलाया तो भरना होगा भारी बिल! सरकार ला रही है नया टैरिफ प्लान

51

अगर आप रात में एसी-कूलर चला कर सोते हैं तो आपको भारी बिजली बिल भी भरने पड़ सकते हैं. दरअसल, भारत सरकार ने बिजली बिलों को लेकर नया टैरिफ प्लान लाने की योजना बनाई है. इस योजना के तहत आपके दिन और रात के बिजली के लिए अलग-अलग दल देनी होगी. सरकार की नयी योजना के मुताबिक, अप्रैल 2024 के बाद अगर आप गर्मी से बचने के लिए रात में एयर कंडीशनर ज्यादा चलाते हैं तो आपको ज्यादा बिजली बिल देना होगा.

दिन में कम होगी बिजली की दर
नए बिजली टैरिफ में दिन में बिजली की दर मौजूदा कीमत से 20 फीसदी तक कम होगी. लेकिन रात में पीक ऑवर्स के दौरान बिजली की दर महंगी हो जाएगी. बिजली की दर में 10 से 20 फीसदी का इजाफा हो जाएगा. दरअसल टीओडी नियम के तहत दिन के अलग-अलग समय के लिए बिजली की अलग-अलग दरें लागू होंगी. यह व्यवस्था लागू होने से बिजली की सर्वाधिक दर वाले समय में उपभोक्ता कपड़े धोने और खाना पकाने जैसी अधिक बिजली खपत वाले कामों से परहेज कर सकेंगे.

कब से लागू हो रही है नयी व्यवस्था
बिजली दर की नयी व्यवस्था एक अप्रैल 2024 से 10 किलोवाट और उससे ज्यादा मांग वाले वाणिज्यिक एवं औद्योगिक उपभोक्ताओं के लिए लागू हो जाएगी. कृषि छोड़कर अन्य सभी उपभोक्ताओं के लिए यह नियम एक अप्रैल, 2025 से लागू होगा. हालांकि स्मार्ट मीटर वाले उपभोक्ताओं के लिए टीओडी व्यवस्था तभी लागू होगी जब वे इस तरह का मीटर लगवाएंगे.

बिजली शुल्क प्रणाली में दो बदलाव
नये नियम को लेकर बिजली मंत्रालय ने कहा है कि भारत सरकार ने बिजली उपभोक्ता अधिकार नियम 2020 में संशोधन किया है. इसके तहत मौजूदा बिजली शुल्क प्रणाली में दो बदलाव किए गए हैं. मंत्रालय ने ये बदलाव दिन के समय टीओडी शुल्क प्रणाली की शुरुआत और स्मार्ट मीटर से जुड़े प्रावधानों के तहत किया है. इसके मुताबिक दिन भर एक ही दर पर बिजली के लिए शुल्क लेने के बजाय उपयोगकर्ता से बिजली के लिए शुल्क दिन के अलग-अलग समय के हिसाब से अलग-अलग होगी.

क्या है नई व्यवस्था
बिजली मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक, नई शुल्क प्रणाली के तहत दिन के समय बिजली की दर सामान्य दर से 10 से 20 फीसदी कम होगी, जबकि यह दर राक के समय खास कर पीक आवर्स में 10 से 20 फीसदी ज्यादा होगी. वहीं, केंद्रीय बिजली और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह का मानना है कि टीओडी व्यवस्था से उपभोक्ताओं और बिजली प्रदाताओं को हर हाल में फायदा ही होगा.
भाषा इनपुट से साभार

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.