Weather Forecast: पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले दो दिनों तक बारिश की आशंका, केरल के चार जिलों में अलर्ट

4

राजस्थान में आंधी और वज्रपात की संभावना

मौसम विभाग ने राजस्थान में पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते अधिकांश इलाकों में आने वाले तीन दिनों तक आंधी और वज्रपात की संभावना जताई गयी है. विभाग ने आने वाले तीन दिनों तक राज्य के अधिकांश इलाकों में आंधी और वज्रपात के यलो अलर्ट के साथ चेतावनी जारी की है. विभाग के अनुसार आज सुबह से शाम तक भीलवाड़ा में 12.6 मिलीमीटर बारिश, धौलपुर में 8.5 मिमी, बाड़मेर में 7.8 मिमी, बांसवाड़ा में 5 मिमी, डूंगरपुर में 2.5 मिमी, हनुमानगढ़ में 1 मिमी बारिश दर्ज की गई.

अगले 24 घंटों के दौरान कैसा रहेगा मौसम

स्काईमेट वेदर के अनुसार आने वाले 24 घंटों के दौरान पश्चिमी हिमालय पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ कहीं-कहीं भारी बारिश होने की संभावना है. पश्चिमी हिमालय के ऊपरी इलाकों और सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश के इलाकों में बर्फबारी भी संभव है. वहीं, पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश, विदर्भ, तेलंगाना, तमिलनाडु, केरल और आंतरिक कर्नाटक के कुछ हिस्सों किसी मध्यम बारिश के साथ एक या दो भारी बारिश हो सकती है.

हिमाचल प्रदेश में 6 मई तक बारिश का येलो अलर्ट जारी

मौसम विभाग ने आज हिमाचल प्रदेश के मैदानी इलाकों सहित निचले और मध्य ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में अलग-अलग स्थानों पर 6 मई तक गरज के साथ छीटे पड़ने और आकाश में बिजली चमकने का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुए येलो अलर्ट जारी किया है. विभाग के अनुसार, राज्य के सभी 12 जिलों के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम स्तर की वर्षा जारी है. विभाग ने बताया कि मंडी जिले के जोगिंदरनगर में सबसे अधिक 47 मिमी, मनाली में 24 मिमी, पच्छाद में 23 मिमी, सोलन में 11.2 मिमी तथा शिमला में 8 मिमी बारिश दर्ज की गई.

केरल के चार जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी

केरल में पिछले कुछ दिन से भारी बारिश के मद्देनजर भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने आज राज्य के चार जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया. आईएमडी ने पतनमथित्ता, एर्नाकुलम, इडुक्की और त्रिशूर जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया. इसके अलावा, उसने तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, अलाप्पुझा, कोट्टायम, पालक्काड और मलप्पुरम जिलों में येलो अलर्ट जारी किया.

पिछले 24 घंटों के दौरान कैसा रहा मौसम

स्काईमेट वेदर के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में मध्यम से भारी बारिश हुई. जबकि, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, पश्चिम और मध्य उत्तर प्रदेश, दमन और आंतरिक कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक या दो स्थानों पर भारी बारिश दर्ज की गयी. वहीं, बात करें मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, तटीय आंध्र प्रदेश, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, राजस्थान, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीरकी की तो इन जगहों पर भी हल्की से लेकर माध्यम दर्जे की बारिश हुई.

पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले दो दिनों तक होगी बारिश

पश्चिमी विक्षोभ के कारण दिल्ली एनसीआर में अगले दो और दिन बारिश होने की संभावना है. मौसम वैज्ञानिकों ने हल्की बारिश और तेज हवा चलने के साथ आसमान में बादल छाए रहने का अनुमान जताया है.

दिल्ली में हल्की बारिश, तेज हवा चलने का अनुमान

दिल्ली के कई हिस्सों में भारी बारिश के एक दिन बाद मंगलवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 19.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शहर में आज गरज के साथ छींटे पड़ने और तेज हवा चलने का अनुमान जताया है. आईएमडी ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक बीते 24 घंटे में 15 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी.

राजस्थान में 2 और 3 मई को भारी बारिश का अनुमान

मौसम केंद्र के अनुसार राजस्‍थान के उत्तरी व पूर्वी भागों में आंधी बारिश का दौर जारी रहने की संभावना है. वहीं एक और नया पश्चिमी विक्षोभ दो मई से सक्रिय होने से एक बार फिर आंधी बारिश 2-3 मई के बीच होगी. इसके अनुसार, आगामी एक सप्ताह के दौरान अधिकतम तापमान औसत से 3 से 5 डिग्री सेल्सियस नीचे रहेगा.

उत्तराखंड में भारी बर्फबारी, चारधाम यात्रा प्रभावित

उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्रों में लगातार बारिश एवं हिमपात के मद्देनजर प्रशासन ने चारधाम की यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं से पर्याप्त एहतियात बरतने तथा राज्य सरकार द्वारा जारी स्वास्थ्य दिशानिर्देशों का पालन करने का आग्रह किया है. रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन ने केदारनाथ के दर्शन के लिए आ रहे तीर्थयात्रियों से अपील की कि वे सुरक्षा की दृष्टि से जहां हैं, वहीं रुके रहें.

आज पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश और असम समेत कई राज्यों में आज हो सकती है बारिश

आईएमडी ने कहा कि दो मई को पंजाब, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, दक्षिण-आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में कुछेक स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान है.

मूसलाधार बारिश से दिल्ली के तापमान में गिरावट

मूसलाधार बारिश से दिल्ली का तापमान 26.1 डिग्री सेल्सियस रहा, जो साल के इस समय के औसत से 13 डिग्री कम है। यह 13 वर्षों में मई का दूसरा सबसे ठंडा दिन था। साथ ही लगातार दूसरा दिन था जब अधिकतम तापमान गर्मी के मौसम में सामान्य से 10 डिग्री कम दर्ज किया गया. मौसम कार्यालय के अनुसार दिल्ली में 14.8 मिमी बारिश दर्ज की गई.

दिल्ली एनसीआर समेत इन राज्यों में भी हुई बारिश

हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी कई स्थानों पर बारिश दर्ज की गई. पंजाब, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, केरल और लक्षद्वीप में भी कुछ स्थानों पर बारिश हुई. दिल्ली में भारी बारिश हुई, सड़कों पर पानी भर गया और लोगों को बारिश से बचने के लिए इधर-उधर आश्रय लेना पड़ा. राष्ट्रीय राजधानी के कुछ इलाकों में जलभराव हो गया, जिससे कई हिस्सों में यातायात की गति धीमी हो गई.

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में भी हुई बारिश

भारत मौसम विज्ञान विभाग के बुलेटिन के अनुसार, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और उत्तराखंड के अधिकांश स्थानों पर सोमवार को सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे के बीच बारिश हुई.

उत्तर प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में आकाशीय बिजली गिरने से 28 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई और नोएडा में तेज बारिश के बीच एक निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत के छज्जे का एक हिस्सा गिरने से दो लोग घायल हो गए.

देश के विभिन्न भागों में बारिश

दिल्ली और इसके पड़ोसी राज्यों सहित देश के कई हिस्सों में भारी बारिश हुई. मौसम विभाग ने बारिश का दौर कुछ और दिन तक जारी रहने का अनुमान जताया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.