कर्नाटक में भाजपा की हार के बाद महाराष्ट्र में एनसीपी की बैठक, राजनीतिक गुणा-गणित पर हुई चर्चा

32

मुंबई : अभी हाल ही में कर्नाटक विधानसभा चुनाव में केंद्र में सत्तारूढ़ दल भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है, लेकिन उसकी इस हार का असर महाराष्ट्र में दिखाई दे रहा है. कर्नाटक में भाजपा की हार और कांग्रेस की जीत से उत्साहित महाराष्ट्र में विपक्षी दल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने अपने राज्य में भविष्य की राजनीति के लिए अभी से ही गुणा-गणित शुरू कर दिया है. खबर है कि भारत की औद्योगिक राजधानी मुंबई में बुधवार को एनसीपी की कोर कमेटी की बैठक आयोजित की गई, जिसकी अध्यक्षता पार्टी प्रमुख शरद पवार ने की. इस बैठक में कर्नाटक में भाजपा की हार के बाद समूचे राजनीतिक हालात पर चर्चा की गई और संभावना यह भी तलाशी गई कि महाराष्ट्र में भाजपा और एकनाथी शिवसेना की गठबंधन वाली सरकार को लेकर क्या कुछ नया किया जा सकता है.

स्थानीय और लोकसभा चुनाव की संभावनाओं पर मंथन

मीडिया से बातचीत के दौरान एनसीपी के मुख्य प्रवक्ता महेश तापसे ने बताया कि बैठक के दौरान पार्टी के संगठनात्मक मामलों पर भी चर्चा की गई. उन्होंने कहा कि मुंबई में शरद पवार की अध्यक्षता में एनसीपी की कोर कमेटी की बैठक हुई. स्थानीय और आम चुनावों के मद्देनजर कार्यकर्ताओं को तैयार करने के लिए पार्टी संगठन के मामलों पर व्यापक चर्चा की गई.

पार्टी के सांगठनिक चुनाव की घोषणा जल्द

पार्टी प्रवक्ता महेश तापसे ने कहा कि एनसीपी के आंतरिक सांगठनिक चुनावों की घोषणा जल्द ही वरिष्ठ नेता जयप्रकाश दांडेगांवकर और दिलीप वलसे पाटिल द्वारा की जाएगी, जिन्हें क्रमश: महाराष्ट्र और मुंबई क्षेत्रों के लिए निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया गया है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक चुनाव के नतीजों के बाद एनसीपी नेताओं की यह पहली बैठक थी और यह इस बात को देखते हुए मायने रखती है कि महाराष्ट्र में शिंदे-फडणवीस सरकार के खिलाफ कर्नाटक जैसी सत्ता विरोधी लहर है.

परमबीर सिंह के निलंबन पर आपत्ति

तापसे ने कहा कि एनसीपी की कोर कमेटी ने सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी परमबीर सिंह के निलंबन को रद्द करने पर भी कड़ी आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा कि परमबीर सिंह ने एनसीपी नेता और तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख पर महाविकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार की छवि खराब करने के लिए निराधार आरोप लगाए थे. अब उनका निलंबन निरस्त किया जा रहा है और निलंबन की अवधि को सेवा में माना जाएगा. उन्होंने कहा कि क्या भाजपा सिंह का आभार व्यक्त कर रही है कि उन्होंने अनिल देशमुख को झूठे आरोप में फंसाया? वहीं, राकांपा के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा कि पार्टी का 24वां स्थापना दिवस समारोह 10 जून को अहमदनगर में मनाया जाएगा.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.