Mutual Funds: लार्ज-कैप म्यूचुअल फंड में एक साल में 80 प्रतिशत बढ़ा निवेश, 19 महीने के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा

8

Mutual Funds Investment: हाल के दिनों में लोगों में म्यूचुअल फंड और एसआईपी में निवेशकों की संख्या काफी तेजी से बढ़ी है. बाजार के उत्साह में निवेशक बेहतर रिटर्न से आकर्षित हो रहे हैं. साल 2016 की शुरुआत में एक्टिव एसआईपी की संख्या 10 मिलियन के करीब थी. आठ साल बाद, म्यूचुअल फंड उद्योग केवल एक महीने में 5 मिलियन खाते जोड़ रहा है. इसके अलावा, एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, मासिक योगदान छह गुना से अधिक बढ़कर 18,800 करोड़ रुपये हो गया है. इस अवधि के दौरान एसआईपी खातों से जुड़ी निवेश संपत्ति 1.2 ट्रिलियन रुपये से 8.6 गुना बढ़कर 10.3 ट्रिलियन रुपये हो गई है. इसके साथ ही, निवेशकों ने जनवरी में लार्ज-कैप म्यूचुअल फंड में 1,287 करोड़ रुपये का निवेश किया है. यह 19 माह में निवेश का उच्चस्तर है. छोटी और मझोली कंपनियों के कोषों में तेजी ने उनके मुनाफावसूली के लिए प्रेरित किया है और लॉर्ज-कैप में उनका निवेश बढ़ा है.

दिसंबर में हुई थी जबरदस्त निकासी

इससे पहले दिसंबर, 2023 में उन्होंने लार्ज-कैप फंड से 281 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की थी. निवेश का मौजूदा स्तर पिछले साल जनवरी के 716 करोड़ रुपये के आंकड़े से 80 प्रतिशत अधिक है. इस ताजा प्रवाह के बाद बड़े शेयरों में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंड का संपत्ति आधार जनवरी में 26 प्रतिशत बढ़कर तीन लाख करोड़ रुपये हो गया, जो एक साल पहले 2.38 लाख करोड़ रुपये था. एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के हालिया आंकड़ों के अनुसार, लार्ज-कैप पर केंद्रित इक्विटी म्यूचुअल फंड को जनवरी में 1,287 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त हुआ. यह जुलाई, 2022 के 2,052 करोड़ रुपये के बाद का उच्चतम स्तर है. मॉर्निंगस्टार इन्वेस्टमेंट रिसर्च इंडिया के निदेशक-प्रबंधक शोध कौस्तुभ बेलापुरकर ने कहा कि छोटे और मझोली कंपनियों में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंड में निवेशक मुनाफा काट रहे हैं और उसे नए सिरे से लॉर्ज कैप फंड में लगा रहे हैं.

क्या है म्यूचुअल फंड

म्यूचुअल फंड एक वित्तीय उत्पाद है जिसमें निवेशकों का पूंजी नियंत्रित तरीके से निवेश किया जाता है. यह निवेशकों के द्वारा नियंत्रित किए गए धन को विभिन्न प्रकार के आवासीय और व्यावसायिक लेनदेन में वितरित करता है. म्यूचुअल फंड विभिन्न निवेश संबंधी उत्पादों, जैसे कि शेयरों, बॉन्ड्स, संदर्भित उत्पादों और अन्य वित्तीय संस्थाओं के साथ निवेश कर सकते हैं. म्यूचुअल फंड का प्रबंधन एक वित्तीय संस्था या फंड मैनेजर द्वारा किया जाता है, जो निवेशकों के पूंजी को विभिन्न निवेश के अनुसार वितरित करता है. म्यूचुअल फंड के निवेशक फंड मैनेजर को निवेश और प्रबंधन के लिए एक नियोक्ता के रूप में चुनते हैं, जिसका काम है फंड के लिए सर्वोत्तम निवेश का चयन करना और फंड की प्रदर्शन की निगरानी करना होता है. म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए कई लाभ प्रदान करते हैं, जैसे कि निवेश के प्रोफेशनल प्रबंधन, विविधता, लिक्विडिटी, और निवेश की आसानी. इनका उद्देश्य निवेशकों के पूंजी को समृद्धि करना है, जिसमें उन्हें अपने वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मदद मिल सकती है.

(डिस्क्लेमर: म्यूचुअल फंड में निवेश बाजार जोखिम के अंतर्गत है. इसमें निवेश करते समय, निवेशकों को अपने लक्ष्य, रिस्क प्रोफाइल और निवेश की अवधि को ध्यान में रखना चाहिए. इसके अलावा, निवेश के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त करने के लिए पेशेवर सलाहकार से परामर्श जरूर लेना चाहिए.)

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.