Monsoon Updates: 18 राज्यों में घनघोर बारिश के साथ दक्षिण-पश्चिम मानसून की विदाई, जानिए IMD का ताजा अपडेट

10

Monsoon Updates: बीते दिनों से देश के 18 राज्यों में भारी से अति भारी बारिश के बाद मानसून की वापसी शुरू हो गई है. इस बार मानसून की 8 दिनों की देरी से वापसी हो रही है. दरअसल, भारत में 17 सितंबर से मानसून की वापसी तय हो जाती है. इस बार सामान्य तिथि से आठ दिन बाद सोमवार से मानसून की वापसी शुरू हुई है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने यह जानकारी दी है. आईएमडी के मुताबिक, दक्षिण पश्चिम मानसून का आज दक्षिण पश्चिम राजस्थान के कुछ हिस्सों से लौटना शुरू हो गया. दक्षिण पश्चिम राजस्थान से इसके लौटने की सामान्य तिथि 17 सितंबर थी.

13वीं बार देर से लौट रहा है मानसून
इस साल मानसून की वापसी में देरी के साथ यह लगातार 13वीं बार है जब मानसून देरी से लौट रहा है. मानसून की वापसी में किसी भी तरह की देरी का सीधा अर्थ है लंबे समय तक बारिश का मौसम बना रहना है. आम तौर पर दक्षिण पश्चिम मानसून केरल में एक जून को आता है और आठ जुलाई तक पूरे देश में छा जाता है. यह 17 सितंबर के आस पास उत्तर पश्चिम भारत से लौटने लगता है और 15 अक्टूबर तक पूरे देश से चला जाता है.

देश के 18 राज्यों में मानसून सक्रिय
देश के 18 राज्यों में फिलहाल मानसून सक्रिय है. दिल्ली, बिहार, झारखंड, महाराष्ट्र समेत कई और राज्यों में मानसून के सक्रिय होने के कारण जोरदार बारिश हो रही है. मौसम विभाग ने कहा है कि राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार, झारखंड, तेलंगाना, आंध्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश समेत देश के 18 राज्यों में मानसून सक्रिय है. इन राज्यों में भारी बारिश हो रही है. कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं. सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र के नागपुर का है. भारी बारिश के कारण नागपुर में चार लोगों की मौत की खबर है.

कश्मीर में बारिश के साथ हो रही बर्फबारी
मानसून के सक्रिय होने का असर कश्मीर में भी दिख रहा है. कश्मीर के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश हो रही है. बर्फबारी और बारिश के कारण घाटी में न्यूनतम तापमान में काफी गिरावट आई है. उत्तरी कश्मीर में अमरनाथ गुफा मंदिर और गुलमर्ग सहित दक्षिण कश्मीर के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी हुई है. घाटी के अधिकांश हिस्सों में मध्यम बारिश हुई और श्रीनगर शहर में सोमवार सुबह आठ बजकर 30 मिनट तक 18.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. बारिश के कारण तापमान में काफी गिरावट आई है और श्रीनगर में न्यूनतम तापमान रविवार रात 10.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो एक रात पहले 13 डिग्री सेल्सियस था.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.