RBI Monetary Policy: भीषण गर्मी में राहत की फुहार, इकोनॉमी में आई तरक्की की बहार

9

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने चालू वित्त वर्ष की अपनी दूसरी द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा में प्रमुख नीतिगत दर रेपो को 6.5 प्रतिशत पर कायम रखा है. इसके साथ ही केंद्रीय बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए अपनेआर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को भी 6.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा है. वहीं, चालूवित्त वर्ष 2023-24 के लिए मुद्रास्फीति के अनुमान को 5.2 प्रतिशत सेघटाकर 5.1 प्रतिशत कर दिया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.