PMGKAY: अगले 5 साल तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त मिलेगा राशन! जानें कैसे पा सकते है लाभ

22

PMGKAY : केंद्र सरकार ने गरीबों के लिए बड़ी खुशखबरी दी है. अब देश के करीब 80 करोड़ लोगों को हर महीने मुफ्त राशन मिलेगा. केंद्र सरकार ने करीब 80 करोड़ गरीब लोगों को प्रति माह पांच किलोग्राम मुफ्त खाद्य सामग्री देने से जुड़ी पीएमजीकेएवाई योजना को अगले पांच वर्षों के लिए बढ़ा दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में इस संबंध में फैसला किया गया.

अगले पांच वर्षों में योजना पर करीब 11.8 लाख करोड़ रुपये का खर्च आएगा

सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) को एक जनवरी 2024 से अगले पांच साल के लिए बढ़ा दिया गया है. योजना को पहले 31 दिसंबर 2023 तक विस्तार दिया गया था. मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि अगले पांच वर्षों में योजना पर करीब 11.8 लाख करोड़ रुपये का खर्च आएगा. पीएमजीकेएवाई को 2020 में वैश्विक महामारी राहत उपाय के रूप में पेश किया गया था.

हर महीने पांच किलोग्राम मुफ्त खाद्यान्न

साथ ही जानकारी देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि इसमें राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत पांच किलोग्राम सब्सिडी वाली खाद्य सामग्री के अलावा प्रति लाभार्थी को हर महीने पांच किलोग्राम मुफ्त खाद्यान्न प्रदान किया जाता है. कई विस्तारों के बाद दिसंबर 2022 में पीएमजीकेएवाई योजना को मुफ्त राशन प्रदान करने वाले एनएफएसए के अधीन लाया गया.

PMGKAY में नए सदस्य का नाम ऑनलाइन जोड़ने की प्रक्रिया

  • PMGKAY के तहत मुफ्त राशन पाने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने राज्य की खाद्य आपूर्ति विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. उत्तर प्रदेश के निवासी (https://fcs.up.gov.in/FoodPortal.aspx) पर विजिट कर सकते हैं.

  • इसके बाद सबसे पहले अपनी एक लॉगिन आईडी बना लें. अगर पहले से आईडी है तो लॉगइन करें.

  • अब होम पेज पर नए सदस्य को जोड़ने के विकल्प पर जाएं, इस पर क्लिक करें.

  • इसके बाद आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जाएगा. इसमें नए सदस्य की सभी जानकारी भरें.

  • अब फॉर्म के साथ सभी जरूरी कागजात की सॉफ्ट कॉपी अपलोड करते हुए और सबमिट करें.

  • इसके बाद एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलेगा. इससे पोर्टल में अपने फॉर्म की ताजा स्थिति ट्रैक कर पाएंगे.

  • फॉर्म और दस्तावेज की जांच में सब ठीक होने पर फॉर्म स्वीकार हो जाएगा और राशन कार्ड डाक के जरिए आपके घर आएगा.

  • यदि आप यह प्रक्रिया नहीं कर पा रहे हैं तो नजदीकी सीएससी (CSC)/जनसेवा केंद्र से भी ऑनलाइन प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं.

कब हुई इस योजना की शुरुआत?

जानकारी दे दें कि केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत 30 जून 2020 को की गई थी. इस योजना के तहत गरीब लोगों को हर महीने 5 किलो चावल या गेंहू बिना किसी शुल्क के मिलता है. केंद्र सरकार समय-समय पर इस योजना को आगे बढ़ाती रही है. इससे पहले इस योजना को साल 2023 तक के लिए बढ़ाया गया था. हालांकि, छ्त्तीसगढ़ चुनाव प्रचार के समय पीएम मोदी ने इस योजना को आगे बढ़ाने की बात कही थी. अब इसका आधिकारिक ऐलान अनुराग ठाकुर के द्वारा कर दिया गया है.

Source link

Get real time updates directly on you device, subscribe now.